उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ ने वेतन समय से देने की उठाई मांग

जिले के कुछ सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में जून माह का वेतन न मिलने के कारण शनिवार को माध्यमिक शिक्षक संघ के सदस्यों ने डीआइओएस से मुलाकात की। शिक्षक विधायक सुरेश त्रिपाठी ने कहा कि जिन अध्यापकों का वेतन अभी तक नहीं मिला, उन सभी को बिना किसी विलंब के भुगतान किया जाना चाहिए। शिक्षकों ने जिला विद्यालय निरीक्षक से वेतन का भुगतान प्रत्येक महीने की 10 तारीख से संशोधन करने की मांग को प्रमुखता से उठाया। लेखाधिकारी कार्यालय पहुंचकर भी वेतन भुगतान में विलंब न करने की मांग की गई। प्रतिनिधिमंडल में महेश दत्त शर्मा, राम प्रकाश पांडेय, अनुज कुमार, जगदीश प्रसाद, शिवशंकर यादव, सुयोग्य पांडेय और रवींद्र त्रिपाठी आदि शामिल रहे।

त्वरित कार्यवाही की मांग : शनिवार को उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ का प्रतिनिधिमंडल जिला विद्यालय निरीक्षक से से मिला। जिलाध्यक्ष वीपी सिंह ने कहा कि अन्य जिलों से जो शिक्षक स्थानांतरित होकर इलाहाबाद में आए हैं उनके बिल भुगतान में अनावश्यक विलंब हो रहा है। जिला विद्यालय निरीक्षक ने त्वरित कार्यवाही करते हुए विद्यालय प्रबंधकों को नियमित एवं स्थानांतरित शिक्षकों का बिल एक साथ डीआइओएस कार्यालय में प्रस्तुत करने के आदेश दिए। सुरेंद्र प्रताप सिंह, लक्ष्मी नारायण, अजय सिंह, बृजेश श्रीवास्तव, राजेश मौर्य और सुरेश गुप्त आदि शामिल रहे। १

वित्तविहीन शिक्षकों ने उठाई मांग: चंद्रशेखर आजाद पार्क में शनिवार को उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ वित्त विहीन गुट की बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में प्रदेश भर के वित्तविहीन विद्यालयों में शिक्षकों-कर्मचारियों के साथ अपनाई जाने वाली गलत नीतियों की निंदा की गई। अभय राज सिंह मंडल अध्यक्ष ने कहा, गत डेढ़ साल से प्रदेश में वित्तविहीन विद्यालयों में मानदेय पूरी तरह से बंद होने से शिक्षक परेशान हैं। जिलाध्यक्ष ननकेश बाबू ने प्रदेश सरकार से शिक्षकों के सम्मानजनक मानदेय की मांग की। अभयराज सिंह, फूलचंद कनौजिया, गोविंद प्रसाद, बुद्धराम यादव, सीता शरण, बालेंद्र गौतम आदि प्रमुख रूप से शामिल रहे।

 पढ़ें- UP Assistant Teacher Recruitment by new policy in Parishadiya Vidyalaya 

0 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *