अंक सुधार परीक्षा के लिए यूपी बोर्ड प्रदेश में 75 संकलन केंद्र बनाए

up boardप्रयागराज: हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की 18 सितंबर से शुरू हो रही अंक सुधार परीक्षा के लिए उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) ने प्रदेश में 75 संकलन केंद्र बनाए हैं। हर जिला मुख्यालय पर एक-एक संकलन केंद्र बनाया गया है। इसमें परीक्षा के बाद उत्तर पुस्तिकाएं रखी जानी हैं। उत्तर पुस्तिकाएं सीसीटीवी की निगरानी में जमा कराई जाएंगी। सीसीटीवी कैमरे 24 घंटे क्रियाशील रहेंगे। इसकी क्लिप संकलन केंद्र के उप नियंत्रक (प्रधानाचार्य) को सुरक्षित रखने के निर्देश दिए गए हैं।

यूपी बोर्ड सचिव दिब्यकांत शुक्ल ने सभी संकलन केंद्र के उप नियंत्रक को भेजे पत्र में कहा है कि वर्ष 2021 के घोषित परिणाम से असंतुष्ट परीक्षार्थियों के लिए अंक सुधार परीक्षा हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की एक साथ होगी। 18 सितंबर से शुरू होकर हाईस्कूल की परीक्षा चार अक्टूबर एवं इंटरमीडिएट की छह अक्टूबर को खत्म होगी। सचिव ने कहा है कि तहसील परिक्षेत्र के परीक्षा केंद्रों से उत्तर पुस्तिकाओं के बंडल जिला मुख्यालय पर बनाए गए संकलन केंद्र पर जमा कराए जाएंगे। हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की उत्तर पुस्तिकाओं के बंडल अलग-अलग रखे जाएंगे, ताकि मूल्यांकन के समय परेशानी न आए। संकलन केंद्र प्रभारी की यह जिम्मेदारी होगी कि निर्धारित समय पर बंडल न जमा होने पर जानकारी जिला विद्यालय निरीक्षक को देने के साथ ही यूपी बोर्ड मुख्यालय को भी दी जाए।

यह भी पढ़ेंः  UGC NET 2021 परीक्षा के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ़ी

विशेष तौर पर कहा गया है कि जिन कक्षों में बंडल संकलित किया जाना है, उनमें दीमक एवं सीलन से बचाव के लिए तारकोल लगाने के साथ गैमेक्सीन का छिड़काव किया जाए। उत्तर पुस्तिकाओं की सुरक्षा के लिए सशस्त्र पुलिस बल की तैनाती की जानी है। संकलन केंद्र पर विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराने के लिए जेनरेटर की व्यवस्था भी अनिवार्य रूप से करने के निर्देश दिए गए हैं।

यूपी बोर्ड के 2103 विद्यार्थी शामिल होंगे अंक सुधार परीक्षा में

जासं, प्रयागराज : कोरोना काल में सभी विद्यार्थियों की कक्षाएं बाधित हुईं। परीक्षाएं भी नहीं कराई जा सकीं। विद्यार्थियों को उनके पिछले प्रदर्शन के आधार पर अंक दिए गए। जो छात्र-छात्रएं बोर्ड की तरफ से जारी अंकों से संतुष्ट नहीं हैं उन्हें परीक्षा में बैठने की व्यवस्था की गई है। यूपी बोर्ड ऐसे अभ्यर्थियों के लिए परीक्षा कराने जा रहा है। जिला विद्यालय निरीक्षक आरएन विश्वकर्मा ने बताया कि जनपद में आठ केंद्रों पर अंक सुधार परीक्षा कराई जाएगी। 18 सितंबर से छह अक्टूबर तक हाई स्कूल और इंटर मीडिएट के प्रश्नपत्र होंगे। इसके लिए कुल 2103 विद्यार्थियों ने फार्म भरा है। हाईस्कूल के 877 और इंटरमीडिएट के 1226 विद्यार्थियों ने परीक्षा के लिए अनुमति मांगी है। दो पालियों में परीक्षा कराई जाएगी। हाईस्कूल की परीक्षा आठ से दस बजे और इंटरमीडिएट की परीक्षा दो बजे से चार बजे तक होगी। इस दौरान सभी केंद्रों पर कोविड से बचाव संबंधी नियमों का सख्ती से पालन करना होगा। परीक्षा सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में कराई जाएगी। किसी भी सेंटर पर 300 से अधिक परीक्षार्थी नहीं बैठेंगे। केंद्रों पर सैनिटाइजेशन की व्यवस्था अनिवार्य रूप से करनी होगी। अभ्यर्थियों को भी मास्क लगाकर ही सेंटर पर जाना होगा। यदि किसी भी विद्यार्थी की तबीयत खराब होती है तो उसे अलग कक्ष में बैठाया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः  चयनित 23 खंड शिक्षा अधिकारियों का नियुक्ति आदेश जारी