दो शिक्षकों के मानव संपदा पोर्टल पर एक ही नाम से दो-दो इंप्लाई कोड

Basicसुल्तानपुर। बेसिक शिक्षा विभाग में फर्जी दस्तावेजों के आधार पर नौकरी करने वाले दो शिक्षकों पर कार्रवाई की तलवार लटक गई है। दोनों शिक्षकों के मानव संपदा पोर्टल पर एक ही नाम से दो-दो इंप्लाई कोड खुले हुए हैं। इसमें से एक शिक्षक का सुल्तानपुर के साथ ही संत कबीरनगर में भी इंप्लाई कोड चल रहा है। दोनों की जांच एसटीएफ लखनऊ की ओर से की जा रही है। शिक्षक भर्तियों में अनियमितता की शिकायत पर मामले की जांच वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक स्पेशल टास्क फोर्स लखनऊ की ओर से की जा रही है। आरोपों की जांच के लिए संबंधित शिक्षकों के दस्तावेज मंगाए गए हैं।

कुड़वार विकास खंड के एक प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक के विरुद्घ फर्जी अंकपत्रों के सहारे नियुक्ति हासिल करने की जांच गतिमान है। अध्यापक के नाम और एक ही जन्मतिथि पर सुल्तानपुर के अलावा संत कबीरनगर में भी शिक्षक की नियुक्ति है। दोनों जगह मानव संपदा पोर्टल पर अलग-अलग एचएमआरएस (हृयूमन रिसोर्स मैनेजमेंट सिस्टम) कोड खुले हुए हैं। वहीं अखंडनगर विकास खंड के एक जूनियर हाईस्कूल में कार्यरत सहायक अध्यापक के सुल्तानपुर जनपद में ही दो अलग-अलग एचएमआरएस (हृयूमन रिसोर्स मैनेजमेंट सिस्टम) कोड खुले हुए हैं। दोनों शिक्षकों के विरुद्घ एसटीएफ के एसएसपी कार्यालय से जांच चल रही है। शिक्षकों के समस्त शैक्षिक दस्तावेज मंगाए गए हैं। साथ ही नियुक्ति पत्र भी मंगाया गया है। जांच के बाद मामले में कार्रवाई होनी तय है।

यह भी पढ़ेंः  मिशन प्रेरणा के ध्यानाकर्षण माड्यूल को लेकर शिक्षक जागरूक नहीं

बीएसए दीवान सिंह यादव ने बताया कि दो शिक्षकों के दस्तावेज एसटीएफ की ओर से मांगे गए थे, जिन्हें भेज दिया गया है। इसमें सभी शैक्षिक अभिलेख, नियुक्ति पत्र आदि प्रपत्र शामिल हैं। तथ्यों को छुपा कर फर्जी तरीके से नियुक्ति पाने वाले किसी भी शिक्षक को बख्शा नहीं जाएगा।