सहायक शिक्षक ने अपने ही स्कूल में सरकारी अभिलेखों को फाड़े

मलिकापुर प्राइमरी स्कूल के सहायक शिक्षक ने अपने ही स्कूल में सरकारी अभिलेखों को फाड़ दिया। इंचार्ज शिक्षिका ने पूरे मामले से अफसरों को अवगत कराते हुये कार्रवाई की मांग की है। एक माह पहले भी सहायक शिक्षक से कहासुनी का विवाद एबीएसए दफ्तर पहुंचा, मगर कोई कार्रवाई नहीं हुई। एबीएसए ने मामले में जांच की बात कही है।

ब्लाक से सटे गांव मलिकापुर प्राथमिक विद्यालय में स्नेहलता इंचार्ज शिक्षिका हैं। स्कूल में पिछले दिनों संदीप कुमार नाम के शिक्षक की बतौर सहायक शिक्षक तैनाती हुई। शिक्षिका ने पिछले माह 16 जनवरी को एबीएसए दफ्तर में बाकायदा शिकायत दर्ज कराई कि सहायक शिक्षक बिना अवकाश स्वीकृत कराये जब चाहते हैं तब चले जाते हैं। स्कूल के अभिलेखों में बेमतलब का हस्तक्षेप करते हैं। इंचार्ज शिक्षिका और सहायक शिक्षक में मामला तनातनी का चल रहा था। शनिवार को फिर सहायक शिक्षक स्कूल पहुंचे, तो रजिस्टर में अपनी अनुपस्थिति लगी देख भड़क गये। शिक्षिका से जमकर कहासुनी के बाद स्कूल के अभिलेख फाड़ दिये। जिससे मामला मामला बढ़ गया। शिक्षिका ने संकुल ग्रुप पर पूरा मामले लिखते हुये अफसरों को फोन कर दिया। मामला गरमाने के बाद एक शिक्षक नेता भी स्कूल पहुंचे और मामला शांत कराया।