डीएलएड 2019 में प्रवेश की समय सारिणी मंगलवार को जारी, एक आवेदन सभी जिलों में मान्य

प्रयागराज: प्राथमिक स्कूल में शिक्षक बनने का दो वर्षीय प्रशिक्षण पाठ्यक्रम डीएलएड (डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजूकेशन) 2019 में प्रवेश की समय सारिणी मंगलवार को जारी हो गई है। इच्छुक अभ्यर्थियों को गृह जिला या फिर किसी अन्य जिले से सिर्फ एक ही आवेदन करना होगा। वह सभी राजकीय डायट व निजी प्रशिक्षण संस्थानों में दाखिले के लिए मान्य होगा। आवेदन और फीस सिर्फ ऑनलाइन स्वीकार की जाएगी।

परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव के प्रस्ताव पर विशेष सचिव चंद्रशेखर ने शासनादेश जारी किया है। प्रदेश के जिला शिक्षा व प्रशिक्षण संस्थान यानी डायट में 10600 व निजी डीएलएड संस्थानों में 2,31,700 सहित कुल 2,42,300 सीटें हैं। इनमें प्रशिक्षण के लिए कला व विज्ञान और पुरुष व महिला का विभाजन किए बिना सभी आवेदकों का चयन मेरिट के आधार पर किया जाएगा।

शैक्षिक अर्हता: यूपी बोर्ड, सीबीएसई, आइसीएसई व अन्य समकक्ष मान्यता प्राप्त संस्थानों से हाईस्कूल व इंटर या फिर उसके समकक्ष। यूजीसी से मान्यता प्राप्त विवि या महाविद्यालय से स्नातक 50 प्रतिशत अंकों से उत्तीर्ण हो। आरक्षित व विशेष आरक्षित अभ्यर्थियों को न्यूनतम अंक में पांच प्रतिशत की छूट मिलेगी।

आयु: अभ्यर्थी की उम्र एक जुलाई 2019 को 18 से कम और 35 वर्ष से अधिक न हो। आरक्षित वर्ग को पांच व दिव्यांग अभ्यर्थी को 15 वर्ष की छूट मिलेगी। पूर्व सैनिकों को नियमानुसार छूट मिलेगी। प्रदेश के निवासियों को ही इसमें प्रवेश मिलेगा।

सीट आवंटन के लिए देने होंगे दस हजार रुपये : अभ्यर्थी को कॉलेज विकल्प चुनने की बाध्यता नहीं है। एक बार में उपलब्ध सभी संस्थानों का विकल्प वरीयता क्रम में दे सकता है। सीट आवंटन के लिए उसे 10,000 रुपये का भुगतान करना होगा। इसका समायोजन फीस में होगा, लेकिन प्रवेश न लेने पर या विसंगति होने पर यह धन वापस नहीं होगा।

अल्पसंख्यक संस्थान भरें 50 प्रतिशत सीटें : अल्पसंख्यक संस्थान आवंटित सीटों में से 50 प्रतिशत पर सीधे प्रवेश दे सकते हैं। यह प्रक्रिया तय समय सीमा में ही पूरी करनी होगी, वरना सीटें खाली मानी जाएंगी। उन्हें अलग से समय नहीं दिया जाएगा। 2019 सत्र के लिए कल से ऑनलाइन पंजीकरण व आवेदन शुरू 11 जुलाई तक पंजीकरण व 12 जुलाई तक जमा हो सकेगी फीस गरीब सवर्णो को 10 प्रतिशत आरक्षण नहीं

डीएलएड के राजकीय व निजी कॉलेजों में गरीब सवर्णो को 10 प्रतिशत आरक्षण देने का शासनादेश में जिक्र नहीं है। यह जरूर कहा गया है कि आरक्षण व विशेष आरक्षण नियमानुसार देय होगा। प्रशिक्षण का आवेदन शुल्क सामान्य ओबीसी के लिए 500, एससी व एसटी के लिए 300 व दिव्यांग को 100 रुपये है। डायट में चयनित अभ्यर्थी को प्रति वर्ष 10,200 व निजी कालेज के लिए 41,000 रुपये प्रति वर्ष भुगतान करना होगा।

सत्र शुरू होने के बाद दूसरे चरण का प्रवेश: डीएलएड कॉलेजों में नया सत्र छह अगस्त को शुरू होना है। पहले चरण की खाली सीटों पर दूसरे चरण का प्रवेश 16 से 26 अगस्त तक दिया जाएगा। संस्थान आवंटन 30 अगस्त को होगा। दूसरे चरण के अभ्यर्थियों के लिए अलग से कक्षाएं चलाई जाएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.