सरकारी स्कूलों में टीजीटी के 3825 पद खाली

  

दिल्ली के सरकारी स्कूल नियमित शिक्षकों की भारी कमी से जूझ रहे हैं। आलम यह है कि छठी से दसवीं तक (टीजीटी) के स्वीकृत कुल पदों में से 35 फीसदी पद पर अतिथि शिक्षक सेवाएं दे रहे हैं। इसके बाद भी 3825 पद खाली पड़े हैं। जर्फ एजुकेशनल एंड वेलफेयर सोसाइटी के तरफ से सूचना के अधिकार अधिनियम के तहत मांगी गई जानकारी में यह खुलासा हुआ है।

किसमें कितने पद रिक्त : राजधानी के 1030 स्कूलों में कक्षा छठी से 10वीं तक के शिक्षकों के 33,397 पद स्वीकृत हैं, जिसमें 17,695 नियमित शिक्षक तो 11,877 अतिथि शिक्षक सेवाएं दे रहे हैं। इसके बाद भी 3825 पद खाली हैं। इनमें अंग्रेजी में 704, गणित में 696 व हिंदी में 164 पद खाली हैं।

50 फीसदी पद ही भरे : सहायक शिक्षक (नर्सरी) के 925 पद स्वीकृत हैं, जिसमें 460 पर नियमित शिक्षक सेवाएं दे रहे हैं। साथ ही 465 पद खाली पड़े हैं। इसी तरह सहायक शिक्षक (प्राइमरी) के 2034 पद खाली पड़े हैं। कला, पुस्तकालय और गृह विज्ञान के क्रमश: 439, 202 और 399 पद खाली पड़े हैं।

पीजीटी की भी भारी कमी : सरकारी स्कूलों में 11वीं और 12वीं के पीजीटी की भी भारी कमी है। अंग्रेजी के पीजीटी शिक्षकों के 42 पद खाली पड़े हैं।

Image Source – indiatoday.in

sarkari result.com 2022 Sarkari Exam 2022 Govt Job Alerts Sarkari Jobs 2022
Sarkari Result 2022 rojgar result.com 2022 New Job Alert 2022 UPTET 2022 Notification
हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी आपको अच्छी लगी होगी अगर आप उत्तर प्रदेश हिंदी समाचार, और इंडिया न्यूज़ इन हिंदी में पढने के लिए www.primarykateacher.com को बुकमार्क करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *