स्कूलों में लौटी रौनक, शिक्षकों ने दी मास्क लगाने की हिदायत

स्कूलों में लौटी रौनकप्रयागराज : लंबे अंतराल के बाद प्राथमिक विद्यालयों में भी बुधवार को रौनक लौट आई। मास्क लगाकर, बैग लेकर बच्चे जैसे ही स्कूल के गेट पर पहुंचे शिक्षकों ने उनका स्वागत किया। हाथ सैनिटाइज कराने के साथ ही टीका लगाकर पुष्प वर्षा की।

ज्वाला देवी सरस्वती विद्या मंदिर बालिका इंटर कालेज सुभाष नगर में प्रधानाचार्य मीना श्रीवास्तव व अन्य शिक्षकों ने बच्चों को तिलक लगाया। वंदना स्थल पर प्रधानाचार्य ने दीप प्रज्जवलित कर कोरोना से बचाव के नियम बताए। रानी रेवती देवी सरस्वती विद्या निकेतन इंटर कालेज में शिशु से पंचम तक के विद्यार्थियों पर पुष्प वर्षा की गई। प्रधानाचार्य बांके बिहारी पांडेय व अन्य शिक्षकों ने छात्र छात्रओं की आरती उतारी। अध्यापक ऋचा गोस्वामी ने बताया कि 323 में 173 विद्यार्थी पहले दिन आए। कक्षा में सभी दूर-दूर बैठाए गए। उधर शिवचरण दास कन्हैया लाल इंटर कालेज में प्राइमरी वर्ग में अंग्रेजी माध्यम के 34 और हंिदूी माध्यम में 62 विद्यार्थी आए। विद्यालय के प्रबंधक धीरज खन्ना ने सभी का स्वागत किया।

यह भी पढ़ेंः  होमगार्ड स्वयंसेवकों की भर्ती जल्द किए जाने की तैयारी

नौनिहालों ने की प्रार्थना : ए मालिक तेरे बंदे हम..। यह प्रार्थना प्राथमिक विद्यालय पुराना कटरा (प्रथम) में बुधवार को लंबे अंतराल के बाद सुनने को मिली। शिक्षकों ने मास्क पहनने की हिदायत दी। इससे पहले गेट पर ही बच्चों का ताली बजाकर स्वागत किया। प्रधानाध्यापक अंजली चौधरी ने बताया कि पहले दिन 26 बच्चे आए। सभी के पास अभिभावकों का सहमतिपत्र भी था।

स्कूल भेजने का किया आग्रह : महीने का पहला बुधवार होने से कई स्कूलों में विद्यालय प्रबंध समिति की बैठक हुई। बैठक में उच्च प्राथमिक विद्यालय नया कटरा की प्रधानाध्यापक मीनाक्षी मधुरा श्रीवास्तव ने बताया कि बच्चों को स्कूल भेजने का आग्रह किया। अंदावा उच्च प्राथमिक विद्यालय में अभिभावकों ने कहा कि आनलाइन पाठ्य सामग्री भेजते रहें।

यह भी पढ़ेंः  परिषदीय स्कूलों में तैयार होंगे माडल पुस्तकालय

दी गईं किताबें-यूनीफार्म : राजकीय बालिका इंटर कालेज कटरा में विद्यार्थियों को किताबें, यूनीफार्म और बैग बांटे। मुख्य अतिथि पार्षद आनंद अग्रवाल रहे। उन्होंने उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

प्रा. विद्यालय पुराना कटरा प्रथम में मिड डे मील में तहरी खाने से पूर्व प्रार्थना करते बच्चे’ जागरण

शिक्षा के मंदिर में प्रथम प्रवेश : लंबे अंतराल के बाद बुधवार को कक्षा एक से पांच तक के विद्यार्थियों के लिए भी स्कूल खुल गए। शिवचरणदास कन्हैयालाल इंटर कालेज में शिक्षकों ने पुष्प देकर विद्यार्थियों का स्वागत किया तो उस फूल को लेकर बच्चों ने कक्षा की ड्योढ़ी पर रख शीश नवाया। इनमें मुस्लिम समुदाय के बच्चे भी शामिल रहे’ गिरीश श्रीवास्तव

यह भी पढ़ेंः  कोरोना संक्रमण के चलते मई माह में होने वाली एचपीएससी की परीक्षाएं स्थगित

चाकलेट और टाफी देकर स्वागत
प्रयागराज : प्राथमिक विद्यालय सोहबतियाबाग में बच्चों की गेट पर ही थर्मल स्क्रीनिंग की गई। प्रधानाचार्य सरिता सिंह ने बताया कि 50 प्रतिशत क्षमता के साथ कक्षा में बच्चे बैठाए गए। चाकलेट और टाफी देकर उनका स्वागत किया गया। सहायक अध्यापिका दीपशिखा ने बताया कि मात्र 14 बच्चे आए। उनसे कहानी, कविता सुनने के साथ किताबें भी पढ़वाई गईं।

प्रार्थना कर खाई तहरी

सभी स्कूलों में पहले दिन दोपहर के भोजन में तहरी दी गई। इससे पहले विद्यार्थियों ने ‘हे परमेश्वर हे जगदीश्वर, भोजन से पूर्व प्रणाम तुम्हें, इस भोजन से बल बुद्धि बढ़े, ऐसा दे दो वरदान हमें, ऊं शांति शांति शांति’ प्रार्थना की। इससे पूर्व बच्चों को सुबह दूध भी दिया गया।