तबादला आदेश की अनदेखी पर गरजे शिक्षक

प्रयागराज : शिक्षा निदेशालय पर 17 जनवरी 2020 को धरना देकर एडेड माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षकों के लिए 27 जनवरी 2020 को ऑनलाइन ट्रांसफर का शासनादेश निर्गत कराया गया। एनपीएस से आच्छादित शिक्षकों के 10 वर्षो के अवशेष नियोक्ता अंशदान और ब्याज के लिए 520 करोड़ रुपये की धनराशि शासन से अवमुक्त कराया गया, किंतु शिक्षा निदेशालय व जिला विद्यालय निरीक्षकों की लापरवाही से इनका क्रियान्वयन नहीं हो सका है।

ये बातें प्रदेश अध्यक्ष जगदीश पांडेय ठकुराई ने पांच सूत्रीय मागों को लेकर उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ (ठकुराई गुट) के शिक्षा निदेशालय प्रयागराज पर धरना के दौरान कहीं।

इस मौके पर प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ उमेश त्यागी ने कहा कि विनियमित तदर्थ शिक्षकों को तदर्थ सेवा जोड़कर चयन वेतनमान, प्रोन्नति वेतनमान व पेंशन का निर्धारण किया जाए। प्रांतीय मंत्री सुशील चौधरी ने कहा कि चयन बोर्ड से चयनित नव नियुक्त शिक्षकों को कार्यभार ग्रहण किए छह माह होने जा रहा है और वे सत्यापन के नाम पर वे वेतन से वंचित हैं। प्रांतीय मंत्री जगतारन शरण ने कहा कि शिक्षा निदेशालय में अवशेष भुगतान में जबरदस्त भ्रष्टाचार है।

संचालन प्रदेश उपाध्यक्ष जय प्रकाश नायक ने किया। धरनास्थल पर आकर अपर शिक्षा निदेशक माध्यमिक ने मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन प्राप्त किया। संघ के प्रदेश अध्यक्ष को सभी मांगों पर लिखित आश्वासन दिया कि समस्याओं के निस्तारण के लिए निदेशालय स्तर पर प्रयास किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.