शिक्षक भर्ती फरवरी में होगी: बेसिक शिक्षा मंत्री

बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) अनुपमा जायसवाल ने कहा है कि राज्य सरकार फरवरी, 2018 में हजारों शिक्षकों की भर्ती कर रही है। इसके लिए शिक्षक पात्रता परीक्षा हो चुकी है और रिजल्ट आ चुका है। बेसिक शिक्षा विभाग की कई भर्तियों को लेकर राज्य सरकार ने न्यायालय में विशेष अपील दायर की है। विधानसभा में कांग्रेस विधानमंडल के नेता अजय कुमार लल्लू ने बुनियादी शिक्षा राज मंत्र से सवाल पूछा था कि 12,460 सहायक शिक्षकों में पहले चक्र की काउंसलिंग के बाद सरकार द्वारा नियुक्ति पत्र जारी करने पर रोक लगा दी गई है। क्या सरकार को जानकारी है कि सरकारी स्कूलों में 1.5 लाख शिक्षकों के पद खाली हैं। सरकार इस नियुक्ति पर से रोक हटाएगी? माइकल जायसवाल ने साफ किया कि चार और नियुक्ति अदालत भी  विचाराधीन हैं।

सरकार ने विशेष अनुज्ञा याचिका दायर कर रखी है। न्यायालय में निर्णय होने का इंतजार है। हालांकि सरकार टीईटी सम्पन्न कर रिजल्ट निकाल चुकी है और शिक्षक भर्ती की तैयारी कर रही है। १२,४६० सहायक अधिपति भारती के लिए दिसंबर, २०१६ में आवेदन लिए गए थे। मार्च की शुरुआत में इसकी काउंसलिंग का कार्यक्रम जारी किया गया। इसके बाद सत्ता बदलने पर भाजपा सरकार ने तत्काल प्रभाव से सभी भर्ती पर रोक लगा दी थी।वहीं मई में इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने 12,460 शिक्षक भर्ती पर रोक लगा दी थी। हाईकोर्ट ने निर्देश दिए थे कि चयन प्रक्रिया में क्वालिटी प्वाइंट मार्क्‍स के निर्धारण के लिए प्रक्रिया को दुरुस्त कर नए सिरे से चयन किया जाएगा। यह भी कहा गया है कि अंकों के स्केलेशन का नया फामरूला बनने तक कोई चयन नहीं किया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः  नियमावली बनाकर शिक्षामित्रों को शिक्षक बनाए सरकार