चौ चरण सिंह विश्वविद्यालय ने एनईपी के तहत कॉलेजों को दिए स्किल कोर्सों

जुलाई 2021 से मेरठ-सहारनपुर मंडल के कॉलेजों में स्नातक प्रथम वर्ष में छात्र-छात्राओं को रिटेल से लेकर ट्रैवल तक कोर्स पढ़ने को मिलेंगे। चौ चरण सिंह विश्वविद्यालय ने छात्रों को रोजगार के लिए तैयार करने को स्किल कोर्स में 24 विषयों को शामिल किया है। छह कोर्स को-कुरिकुलर श्रेणी में रखे गए हैं। विश्वविद्यालय में बीए, बीकॉम और बीएससी में एनईपी के तहत स्किल और को-कुरिकुलर कोर्स शुरू होने हैं। विश्वविद्यालय में 20 मई से एनईपी लागू करने को अंतिम रूप देने के लिए बोर्ड ऑफ स्टडीज यानी बीओएस शुरू हो रही हैं। बीओएस में शासन से निर्धारित कोर्स पर मंथन होना है। 70 फीसदी कोर्स राज्य स्तर से तैयार कोर्स से लेना है, जबकि 30 फीसदी विश्वविद्यालय इसमें बदलाव कर सकता है। हालांकि विशेष स्थिति में राज्य स्तरीय कोर्स को भी पूरा स्वीकार किया जा सकता है।

कॉलेजों को लिंक जारी, कोर्स चुनकर बताएं
विश्वविद्यालय ने एनईपी में को-कुरिकुलर एवं स्किल कोर्स की सूची जारी कर दी है। कॉलेजों को जरुरत के हिसाब से कोर्स चुनकर बताना होगा, जिसे वे अपने यहां शुरू करना चाहते हैं। विश्वविद्यालय ने ऐसे कोर्स को शामिल किया है, जिन्हें पढ़ने के बाद छात्रों का कौशल बढ़े और वे रोजगार प्राप्त कर सकें। निर्धारित सूची से अलग भी कॉलेज कोर्स का विकल्प दे सकते हैं।

ये हैं स्किल कोर्स
एग्रीकल्चर, ऑटो इंडस्ट्री, बैंकिंग/फाइनेंस/इंश्योरेंस, ब्यूटी एंड वेलनेस, बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन एंड रियल स्टेट, कंस्ट्रक्शन मैटीरियल एंड बिल्डिंग हॉर्डवेयर, डोमेस्टिक हेल्प, एजुकेशन एंड स्किल डवपलपमेंट, इलेक्ट्रानिक्स एवं आईटी सॉफ्टवेयर, फूड प्रोसेसिंग, फर्नीचर एवं फर्नीशिंग, जेम्स एंड ज्वेलरी, हेंडलूम्स एंड हेंडीक्रॉफ्ट्स, हेल्थकेयर, आईटी एवं आईटीज, लेदर एवं लेदर गूड्स, मीडिया एंड एंटरटेनमेंट, फॉर्मास्यूटिकल्स, प्राइवेट सिक्योरिटी सर्विस, रिटेल, टेलीकम्युनिकेशन, टेक्सटाइल एंड क्लोथिंग, ट्रांसपोर्टेशन, लॉजिस्टिक, वेयरहाउसिंग एंड पैकेजिंग, ट्रैवल, टूरिज्म एंड हॉस्पिटेलिटी।

को-कुरिकुलर कोर्स जो तय हुए
फूड, न्यूट्रीशियन एंड हाइजीन, फर्स्ट एड एंड बेसिक हेल्थ, फिजिकल एजुकेशन एंड योगा, ह्यूमन वेल्यूज एंड एन्वॉयरमेंट स्टडीज, एनालिटिक एबिलिटी एंड डिजिटल अवेयरनेस, कम्युनिकेशन स्किल्स एंड पर्सनेलिटी डवलपमेंट।