बेसिक शिक्षा परिषद को भेजा गया परीक्षा का प्रारूप

लखनऊ : parishadiya prathmik school में शिक्षक बनने की हसरत रखने वाले अभ्यर्थियों के लिए हिंदी, अंग्रेजी, विज्ञान, गणित, सामाजिक अध्ययन और सामान्य ज्ञान जैसे पारंपरिक विषयों के अलावा पर्यावरण, बाल मनोविज्ञान और सूचना तकनीकी जैसे विषयों का ज्ञान Themes भी जरूरी होगा। State Educational Research and Training Council (SCERT) ने परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती के लिए पहली बार आयोजित होने जा रही likhit pariksha का प्रारूप तैयार कर लिया है। यह प्रारूप basic shiksha parishad को भेज दिया गया है।

तीन घंटे, 150 सवाल : तीन घंटे की यह लिखित परीक्षा 150 अंकों की होगी जिसमें अतिलघु प्रकार के 150 प्रश्न पूछे जाएंगे। लिखित परीक्षा का जो खाका तैयार किया गया है, उसमें हिंदी व अंग्रेजी भाषा के लिए 40, विज्ञान के लिए 10, गणित के लिए 20, पर्यावरण एवं सामाजिक अध्ययन के लिए 10, शिक्षण कौशल व बाल विज्ञान के लिए 10-10 अंक होंगे। वहीं सामान्य ज्ञान/समसामयिक घटनाओं पर आधारित 30 अंकों के सवाल होंगे। तार्किक ज्ञान, सूचना तकनीकी और जीवन कौशल/प्रबंधन एवं अभिवृत्ति में से प्रत्येक के लिए पांच-पांच अंक होंगे।

सूचना तकनीकी के क्षेत्र में अभ्यर्थियों को शिक्षण कौशल विकास, कक्षा-शिक्षण तथा विद्यालय प्रबंधन के क्षेत्र में सूचना तकनीकी, कंप्यूटर, इंटरनेट, स्मार्टफोन, शिक्षण में उपयोगी एप्स और डिजिटल शिक्षण सामग्री के उपयोग की जानकारी से संबंधित सवालों के जवाब देने होंगे। वहीं पर्यावरण के क्षेत्र में उनसे पृथ्वी की संरचना, नदियां, पर्वत, महाद्वीप, महासागर व जीव, प्राकृतिक संपदा, अक्षांश व देशांतर, सौरमंडल, भारतीय भूगोल, पर्यावरण संरक्षण और प्राकृतिक आपदा प्रबंधन का ज्ञान अपेक्षित होगा। हंिदूी व अंग्रेजी भाषा से जुड़े सवाल व्याकरण और अपठित गद्यांश व पद्यांश पर आधारित होंगे। सामान्य ज्ञान के तहत अंतरराष्ट्रीय, राष्ट्रीय व प्रदेश से संबंधित महत्वपूर्ण घटनाएं, स्थान, व्यक्तित्व, रचनाएं, अंतरराष्ट्रीय व राष्ट्रीय पुरस्कार, खेलकूद, भारतीय संस्कृति व कला से जुड़ा ज्ञान परखा जाएगा।

हिंदी व अंग्रेजी भाषा, विज्ञान, गणित, पर्यावरण व सामाजिक अध्ययन के प्रश्न कक्षा 12 तक के पाठ्यक्रम के स्तर के होंगे। शिक्षण कौशल, बाल मनोविज्ञान, सूचना तकनीकी, जीवन कौशल प्रबंधन एवं अभिवृत्ति पर आधारित सवाल डीएलएड पाठयक्रम स्तर के होंगे। गौरतलब है कि शिक्षामित्रों का समायोजन रद होने के बाद बेसिक शिक्षा निदेशालय ने परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में 68500 शिक्षकों की भर्ती के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा है।

पढ़ें- fir against 15 teachers who got jobs through fraud records

Shikshak Bharti Pariksha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *