शिक्षामित्रों ने की समान कार्य समान वेतन की मांग

बाराबंकी: बाराबंकी में शिक्षामित्रों  ने गुरुवार को जिला मुख्यालय के पास धरना प्रदर्शन कर दी गिरफ्तारी दी। सभी प्रदर्शनकारी शिक्षामित्रों को बसों में भरकर पुलिस लाइंस ले जाया गया। शिक्षामित्रों ने आंदोलन तेज़ करने का का ऐलान किया आज राष्ट्रीय हाइवे को जाम करेंगे बाराबंकी में शिक्षामित्रों ने गुरुवार को जिला मुख्यालय के पास धरना प्रदर्शन कर दी गिरफ्तारी दी। सभी प्रदर्शनकारी शिक्षामित्रों को बसों में भरकर पुलिस लाइंस ले जाया गया। शिक्षामित्रों ने आंदोलन तेज़ करने का का ऐलान किया आज नैशनल हाई-वे को जाम करेंगे। शिक्षामित्रों के हुजूम के कारण शहर की यातायात व्यवस्था ध्वस्त हो गई। नगर का यातायात सामन्य करवाने में पुलिस के पसीने छूट गए। वहीं शिक्षामित्रों ने शुक्रवार को नैशनल हाई-वे जाम करने का ऐलान किया है। शिक्षामित्रों के इस ऐलान से प्रशासन ने जिले के सभी विद्यालय बंद रखने के आदेश जारी कर दिए हैं।

उत्तर प्रदेश प्रथमिक शिक्षा मित्र संघ के जिलाध्यक्ष विनोद कुमार वर्मा के नेतृत्व में करीब ढाई हजार शिक्षामित्र जिला मुख्यालय के गन्ना कार्यालय परिसर में जुटे थे। shiksha mitra up ने इस आंदोलन के जरिये सरकार के खिलाफ नारेवाजी की और समान कार्य के लिए समान वेतन की मांग उठाई गई। सरकार के विरोध में नारेबाजी करते हुए शिक्षा मित्र रेलवे स्टेशन मार्ग पर आ गए और जाम लगाने की कोशिश की। हालत बिगड़ते देख एसडीएम सदर एसपी सिंह व सीओ सिटी आरएन सिंह की मौजूदगी में सभी शिक्षामित्रों को गिरफ्तार कर पुलिस लाइंस लाया गया। हालांकि सभी को देर शाम निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया। इस मौके पर वरिष्ठ उपाध्यक्ष अनिल कुमार शर्मा, कोषाध्यक्ष संजय शर्मा, राम शंकर राठौर, रोहित त्रिपाठी, धर्मेंद्र वर्मा, हरिप्रकाश शुक्ला मौजूद रहे।

आज बंद रहेंगे विद्यालय : शिक्षामित्रों की राष्ट्रीय हाइवेजाम करने की चेतावनी को जिला प्रशासन बड़ी ही गंभीरता से लेते हुए जिले के सभी विद्यालय बंद करने के आदेश जारी कर दिए हैं। शहर में भी पुलिस फाॅर्स की व्यवस्था की गई है। एसडीएम सदर एसपी सिंह ने बताया कि किसी भी कीमत पर शहरवासियों को और राहगीरों को दिक्कत नहीं होने दी जाएगी। शिक्षामित्रों के आंदोलन को देखते हुए पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है। शिक्षामित्रों के आंदोलन को देखते हुए पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है।

संगठन में पड़ी फूट: शिक्षामित्र के हितों के लिए चलाए जा रहे आंदोलन में बार-बार लचीला रुख अपनाने का आरोप लगाते हुए जिला मंत्री चंदमौलि द्विवेदी व उपाध्यक्ष संतोष कुमार वर्मा ने संघ से इस्तीफा दे दिया। अलग होने वाले पदाधिकारियों का कहना है कि कुछ लोग निजी स्वार्थ के लिए शिक्षामित्रों के भविष्य से खिलवाड़ कर रहे हैं।saman karya saman vetan

125 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.