आउट आफ स्कूल बच्चे चिन्हित करने को शारदा अभियान 10 सितंबर से

लखनऊ : प्राथमिक विद्यालयों में हर बच्चे को प्रवेश दिलाने की तैयारी है। नियमित स्कूल आने वालों का नामांकन चल रहा है, जो कभी स्कूल न गए हो या ड्राप आउट हो गए हों, उनका भी दाखिला कराया जाएगा। प्रदेश में आउट आफ स्कूल बच्चों को चिह्न्ति करने के लिए शारदा अभियान 10 सितंबर से शुरू होने जा रहा है। पांच से 14 साल तक के 6.47 लाख बच्चों को चिह्न्ति करने का लक्ष्य जिलावार तय किया गया है।

निश्शुल्क एवं बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 में छह से 14 आयुवर्ग के सभी बच्चों को प्रारंभिक शिक्षा दिलाने का प्रविधान किया गया है। इसमें यह भी अपेक्षा की गई है कि इस आयुवर्ग के ऐसे बच्चे जिन्हें किसी स्कूल में नामांकित नहीं किया गया है या नामांकन के बाद वे अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूरी नहीं कर सके, उनका चिह्न्ीकरण करके आयु के हिसाब से संबंधित कक्षा में प्रवेश दिलाया जाए। साथ ही उन बच्चों को अन्य विद्यार्थियों के समकक्ष लाने के लिए विशेष प्रशिक्षण की व्यवस्था की जाए। इसी के तहत महानिदेशक स्कूल शिक्षा अनामिका सिंह ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे शारदा अभियान शुरू कराएं। स्कूल न आने वालों के अलावा ड्राप आउट वे बच्चे माने जाएंगे जो नामांकन के बाद बिना सूचना के 45 दिन या उससे अधिक अनुपस्थित चल रहे हों।

यह भी पढ़ेंः  मंत्री का ऐलान:- मृत शिक्षकों के आश्रितों को पद न होने पर भी नौकरी