यूपीटीईटी 28 नवंबर को कराने का प्रस्ताव उत्तर प्रदेश परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव ने भेजा

UPTETप्रयागराज : उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा-2021 28 नवंबर को कराने का प्रस्ताव उत्तर प्रदेश परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव ने भेजा है। पहले 19 दिसंबर को परीक्षा कराने का प्रस्ताव भेजा गया था, जिसे बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने यह कहकर लौटा दिया था कि इसे और पहले कराया जाए। ऐसे में विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखकर यह नई तिथि प्रस्तावित की गई है। इस पर मुहर लग जाने पर परीक्षा कराने की तैयारी परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय शुरू कर देगा।

उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में शिक्षक भर्ती के लिए यूपीटीईटी करना अनिवार्य है। ऐसे में परिषद के विद्यालयों में शिक्षक भर्ती के लिए प्रतियोगी इस परीक्षा का इंतजार कर रहे हैं। वर्ष 2020 में कोरोना संक्रमण की रफ्तार ज्यादा होने के कारण यह परीक्षा नहीं कराई गई थी, ऐसे में प्रतियोगी जल्दी परीक्षा कराने की मांग कर रहे थे। परीक्षा कराने वाली संस्था परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से पहले 19 दिसंबर की तिथि परीक्षा के लिए प्रस्तावित की गई थी, लेकिन इसे विभागीय मंत्री ने मंजूरी न देकर कहा था कि जब 2020 में परीक्षा नहीं हुई तो इस बार इतना विलंब क्यों किया जा रहा है। हालांकि इसके पहले भी परीक्षा कराने के प्रयास किए गए थे। शासन ने 15 मार्च को परीक्षा कराने की समय सारणी जारी कर दी थी। 18 मई से एक जून तक आनलाइन आवेदन लिए जाने थे। परीक्षा 25 जुलाई को होनी थी। उसी दौरान कोरोना की दूसरी लहर आने के कारण आवेदन प्रकिया रोक दी गई। अब परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव संजय कुमार उपाध्याय ने नई तिथि प्रस्तावित की है।

यह भी पढ़ेंः  पेपरलीक की पुष्टि, डीएलएड परीक्षा रद्द होने की संभावना