महिला अभ्यर्थियों को आवंटित नहीं हो पा रहे हैं विद्यालय

इलाहाबाद : सुप्रीम कोर्ट और शासन के निर्देश पर माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड उप्र ने 2009 का रिजल्ट जारी कर दिया है लेकिन, अतिरिक्त चयनित अभ्यर्थियों को विद्यालय का आवंटन अभी तक नहीं हो पाया है। माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड ने पुरुष अभ्यर्थियों का विद्यालय आवंटन फाइनल कर दिया है, वहीं 16 महिला अभ्यर्थियों को अशासकीय स्कूलों में रिक्त पद नहीं मिल रहे हैं। उम्मीद है कि 20 जनवरी के बाद आवंटन सूची जारी कर दी जाएगी।

2009 में माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड ने सामाजिक विज्ञान विषय की लिखित परीक्षा कराई थी। इस परीक्षा में गलत जवाब का प्रकरण हाईकोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक गूंजा था। शीर्ष कोर्ट ने दिसंबर माह में इस मामले में अंतिम संशोधित रिजल्ट को दो सप्ताह में जारी करने का निर्देश दिया था। साथ ही इससे प्रभावित होने वाले अभ्यर्थियों को न छेड़ने की हिदायत भी दी थी। कोर्ट ने अतिरिक्त चयनित अभ्यर्थियों को उन पदों पर समायोजित करने का आदेश दिया, जिनका विज्ञापन अभी जारी नहीं हुआ है। इस समय माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड में ना तो कोई अध्यक्ष और ना ही कोई सदस्य है इसलिए सचिव ने इस प्रकरण को शासन के समक्ष भेज कर मार्गदर्शन मांगा। शासन ने रिजल्ट निकालने का निर्देश दिया और तय समय पर परिणाम जारी हुआ। इसमें 122 अभ्यर्थियों का अतिरिक्त चयन हुआ। इसके लिए रिक्त पदों की सूचना सभी जिलों से मांगी गई।

माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड के अनुसार पुरुष अभ्यर्थियों को विद्यालय आवंटित कर दिया गया है, लेकिन सभी जिलों से रिक्त पदों की रिपोर्ट अब तक नहीं मिल पाई है। अशासकीय माध्यमिक कालेजों में केवल 16 महिला अभ्यर्थियों को रिक्त सीटें नहीं मिल रही हैं। इसके लिए अन्य जिलों से रिपोर्ट मांगी गई है। उसकी राह 20 जनवरी तक देखी जाएगी। पुरुष अभ्यर्थियों का इसके बाद आवंटन जारी होगा। उनके पद रिक्त मिलने पर महिला अभ्यर्थी भी आगे समायोजित की जाएंगी। इसका अनुमोदन बाद में बोर्ड गठित होने पर कराया जाएगा।-

पढ़ें- Sahayak Adhyapak Bharti without Niyamawali Sanshodhan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *