यूपी में 11 महीने बाद आज से खुलेंगे कक्षा 6 से 8 तक के स्कूल

यूपी में 11 महीने बाद आज से खुलेंगे कक्षा 6 से 8 तक के स्कूल, लेकिन अभिभावकों से लेना होगा सहमति पत्र प्रदेश में करीब ग्यारह महीने बाद कक्षा 6 से 8 तक के परिषदीय स्कूल 10 फरवरी को खुलेंगे। रोज 50 प्रतिशत विद्यार्थियों की उपस्थिति को देखते हुए कक्षावार दिन तय करते हुए स्कूलों में कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन करने के निर्देश दिए गए हैं।

बुधवार को पहले दिन आठवीं के विद्यार्थियों को बुलाया गया है। बच्चों को अभिभावकों से स्कूल भेजने के लिए सहमति पत्र लिया जाएगा। कोरोना संक्रमण के कारण मार्च 2020 के दूसरे सप्ताह से परिषदीय स्कूलों में कक्षाएं बंद कर दी गई थीं।

इसके बाद विद्यार्थियों को मई 2020 से वाट्सएप और अन्य एप के माध्यम से ऑनलाइन तथा दूरदर्शन के जरिए पढ़ाया जा रहा था। केंद्र की अनुमति के बाद प्रदेश सरकार ने भी 10 फरवरी से कक्षा 6 से 8 और एक मार्च से कक्षा एक से 5 तक के संचालन का निर्णय लिया है।

बेसिक शिक्षा निदेशक सर्वेंद्र विक्रम सिंह के अनुसार, कक्षा 6 से 8 तक प्रत्येक कक्षा में कुल क्षमता के 50 प्रतिशत विद्यार्थियों को पहले दिन और शेष को अगले दिन बुलाया जाएगा। उच्च प्राथमिक स्तर पर सोमवार व बृहस्पतिवार को कक्षा-6, मंगलवार व शुक्रवार को कक्षा-7 और बुधवार व शनिवार को कक्षा-8 के विद्यार्थी बुलाए जाएंगे। जिन कक्षाओं में संख्या अधिक है, वहां दो पालियों में कक्षाएं चलेंगी।

इसका निर्णय प्रधानाध्यापक और विद्यालय प्रबंध समिति लेगी। विद्यालयों में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ सेनिटाइजर, हैंडवाश, मास्क और थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था रहेगी। यदि विद्यार्थी अभिभावकों की सहमति से घर पर अध्ययन करना चाहता है तो उसे अनुमति दी जाएगी। बेसिक शिक्षा विभाग ने आउट ऑफ स्कूल बच्चों और दिव्यांगों को भी स्कूलों से जोड़ने के निर्देश दिए हैं। बच्चों को मिड डे मील भी 10 फरवरी से मिलेगा।