इलाहाबाद विश्वविद्यालय में शिक्षक भर्ती के लिए कार्य परिषद से अंतिम मंजूरी मिली

इलाहाबाद विश्वविद्यालय में शिक्षक भर्ती के लिए कार्य परिषद से अंतिम मंजूरी मिल चुकी है। अब विश्वविद्यालय प्रशासन अगले माह शिक्षक भर्ती के लिए विज्ञापन जारी करेगा। शिक्षकों के करीब 550 पदों पर भर्ती होनी है। विश्वविद्यालय के कई संकायों में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद खाली चल रहे हैं। विवि कार्य परिषद की मुहर का इंतजार था। अब कार्य परिषद की मंजूरी मिलने के बाद अगले माह रिक्तियों क लिए विज्ञापन जारी किया जाएगा।

नहीं होगी लिखित परीक्षा, सीधे इंटरव्यू के माध्यम भरे जाएंगे पद

इलाहाबाद विश्वविद्यालय (इविवि) की मंगलवार को हुई कार्य परिषद की बैठक ने एकेडमिक कौंसिल के निर्णय को पलट दिया है। विश्वविद्यालय में असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के लिए अब लिखित परीक्षा नहीं होगी, बल्कि पूर्व की भांति सीधे इंटरव्यू के माध्यम से भर्ती की जाएगी। एक पद के लिए आठ अभ्यर्थियों को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाएगा। इसी के साथ विश्वविद्यालय में शिक्षक भर्ती पर अंतिम मुहर लगा दी गई।

यह भी पढ़ेंः  प्रतियोगी मोर्चा के सदस्यों ने टीजीटी और पीजीटी के 27000 पदों पर भर्ती के लिए विज्ञापन जारी करने की मांग की

इविवि की चार अगस्त को हुई एकेडमिक कौंसिल की बैठक में निर्णय लिया गया था कि इस बार असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के लिए लिखित परीक्षा आयोजित की जाएगी, क्वालीफाई करने वाले अभ्यर्थियों के आवेदनों की स्क्रीनिंग के आधार पर इंटरव्यू कराए जाएंगे। एकेडमिक कौंसिल ने यूजीसी रेगुलेशन 2018 के तहत लिखित परीक्षा कराने का निर्णय लिया था, ताकि शिक्षक भर्ती में पारदर्शिता लाई जा सके और योग्य अभ्यर्थियों के लिए चयन के अवसर बढ़ें। कार्य परिषद के सदस्यों का सुझाव था कि यूजीसी की विस्तृत गाइडलाइन को ध्यान में रखते हुए असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के लिए 100 नंबर की प्रस्तावित लिखित परीक्षा की जरूरत नहीं है और इसको हटाया जा सकता है। सदस्यों के प्रस्ताव पर परिषद ने मुहर लगा दी और लिखित परीक्षा हटाने का निर्णय लिया गया।

यह भी पढ़ेंः  72 हजार से अधिक सरप्लस शिक्षकों का समायोजन बना चुनौती

कार्य परिषद की बैठक में विश्वविद्यालय के फैकल्टी रिक्रूटमेंट सेल की ओर से शिक्षक भर्ती के रोस्टर का प्रस्तुतिकरण किया गया और रिक्त पदों के बारे में परिषद को सूचित किया गया, जिसके अनुसार विश्वविद्यालय में कुल 595 पद रिक्त हैं। इनमें 357 पद असिस्टेंट प्रोफेसर, 168 एसोसिएट प्रोफेसर और 78 पद प्रोफेसर के हैं। बैठक में बताया गया कि इन पदों को भरने की प्रक्रिया यूजीसी की गाइडलाइन के हिसाब से होगी और एक पद के लिए आठ अभ्यर्थियों को साक्षात्कार के लिए बुलाया जाएगा।‘

कार्य परिषद की बैठक में शिक्षक भर्ती पर अंतिम मुहर लगा दी गई है। असिस्टेंट प्रोफेसर पद के लिए लिखित परीक्षा नहीं होगी। शिक्षक भर्ती के लिए जल्द ही विज्ञापन जारी किया जाएगा।’ डॉ. जया कपूर, पीआरओ, इविवि

यह भी पढ़ेंः  राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद के पाठ्यक्रमों बीएड लिए ऑनलाइन काउंसलिंग