डीएलएड प्रशिक्षुओं ने करोना संक्रमण के चलते परीक्षा न होने पर प्रमोट किए जाने की उठाई मांग

द्विवर्षीय डिप्लोमा पाठयक्रम डीएलएड मेँ वर्ष 2019 बैच के तृतीय संमेस्टर के प्रशिक्षुओं ने करोना संक्रमण के चलते परीक्षा न होने पर प्रमोट किए जाने की मांग उठाई है। उनका कहना है कि एससीईआरटी की नियमावली के अनुसार डीएलएड- 2019 के चौथे एवं आखिरी संमेस्टर की अवधि छह अगस्त को पूर्ण हो जाएगी, जबकि व संमेस्टर की

परीक्षा ही नहीं हुई । ऐसे में अब परीक्षा होने पर सत्र विलंबित हो जाएगा। प्रशिक्षुओं ने कहा कि तृतीय संमेस्टर की समयावधि छह फरवरी को पूर्ण हो चुकी है। भविष्य को ध्यान में रखकर तृतीय संमेस्टर में प्रमोट कर चौथे संमेस्टर की परीक्षा आयोजित कराई जाए। उत्तर प्रदेश परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव को दिए ज्ञापन में प्रशिक्षुओं ने अवगत कराया है कि उत्तर प्रदेश सरकार के आदेशानुसार विश्वविद्यालयी समिति की सिफारिशों के आधार पर अंतिम सेमेस्टर को छोड़कर अन्य सभी सेमेस्टर में प्रमोट करने का प्रविधान किया गया है। डीएलएड संयुक्त प्रशिक्षु मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष रविकांत द्विवेदी, महामंत्री चिर॑जीव त्रिपाठी, प्रभात सिंह का कहना है कि अपनी मांग को लेकर प्रशिक्षुओं ने एससीईआरटी लखनऊ कार्यालय पर धरना भी दिया था। वहां महानिदेशक स्कूल शिक्षा ने मौखिक रूप से प्रमोट किए जाने का आश्वासन दिया था, लेकिन धरने के 17 दिन बाद भी लिखित आदेश न जारी होने से प्रशिक्षु अपने भविष्य को लेकर परेशान हैं। मामले में परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव संजय उपाध्याय ने बताया कि जो प्रशिक्षु द्वितीय सेमेस्टर में पास हैं, उनको प्रमोट किए जाने का मामला शासन में लंबित हैं। वहां के फैसले के आधार पर आगे की कार्यवाही की जाएगी।

Latest Bihar News Today पढने के लिए प्राइमरी का टीचर पर डेली विजिट करें