69000 शिक्षक भर्ती मामले में फरार मायापति के घर छापा, पत्नी से की पूछताछ

69000 शिक्षक भर्ती घोटाले में फरार रहे मायापति दुबे की तलाश में एसटीएफ उसके भदोही स्थित माकन पर स्थानीय पुलिस की सहायता से छापेमारी की. पड़ोसियों से भी पुलिस ने जानकारी जुटाई. पुलिस ने सबको चेतावनी दी है कि अगर किसी ने आरोपी को शरण दी तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी. भदोही जिले का कोइरौना थानाक्षेत्र का बारीपुर गांव निवासी मायापति दुबे का आलीशान मकान है. 69000 शिक्षक भर्ती मामले में सोरांव पुलिस ने मायापति दुबे के एक भाई को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है. इस केस में फरार मायापति की तलाश में एसटीएफ ने शनिवार को भदोही पुलिस की मदद ली. थाने से महिला पुलिस के साथ एसटीएफ बारीपुर गांव पहुंची. वहां पर मायापति की पत्नी, उसका भाई और मां-बाप मिले. सूत्रों की मानें तो परिजनों ने मायापति को फंसाने की बात कही और उसके बारे में कोई भी जानकारी से इनकार किया. एसटीएफ को ग्रामीणों से पता चला कि मायापति के पिता नौकरी छोड़कर वीआरएस ले चुके हैं. गांव में इनके दो-तीन भट्ठे चलते हैं. कोई विद्यालय भी बताया जा रहा है. इससे पूर्व भी एसटीएफ ने माया पति दुबे के घर और उसके ससुराल में छापेमारी की थी लेकिन वह पकड़ में नहीं आया था. स्थानीय पुलिस को भी सूचना दे दी गई है कि अगर कहीं मायापति के बारे में सुराग लगे तो एसटीएफ को शेयर करे. मायापति दुबे के खिलाफ कोर्ट खुलते ही वारंट लेकर एसटीएफ उस पर इनाम कराने वाली है.