अगले सत्र से एनसीईआरटी पाठ्यक्रम के मुताबिक पढ़ाई की तैयारियां शुरू

अगले सत्र से एनसीईआरटी पाठ्यक्रम के मुताबिक पढ़ाई शुरू कराने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी है। इसके लिए संदर्भदाता यानी हर ब्लॉक से 4 अध्यापकों को प्रशिक्षित किया जाएगा। वहीं इसके बाद 25-25 के बैच में सभी शिक्षकों को ऑफलाइन प्रशिक्षण दिया जाएगा। इतनी बड़ी संख्या में शिक्षकों का प्रशिक्षण 31 मार्च, 2021 तक पूरा करना विभाग के लिए एक बड़ी चुनौती होगी।

चुनौती इसलिए भी कि विभाग को प्री प्राइमरी की कक्षाओं के लिए 1.60 लाख आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को भी प्रशिक्षित करना है। वहीं इस सत्र से कक्षा एक में एनसीईआरटी के पाठ्यक्रम के मुताबिक पढ़ाई शुरू करवानी है। इसके लिए संदर्भदाताओं का प्रशिक्षण ऑनलाइन होगा। हर ब्लॉक से चार शिक्षकों को चयनित किया जा रहा है। इसमें ऐसे शिक्षकों का चयन होना है जिनका अकादमिक गतिविधियों में विशेष योगदान हो। इसके लिए शिक्षक संकुल और केआरपी में चयनित शिक्षकों का भी चयन किया जा सकता है। इनका प्रशिक्षण 10 जनवरी तक पूरा किया जाना है। इसके बाद सभी शिक्षकों का प्रशिक्षण ब्लॉक स्तर पर करवाया जाएगा। प्रशिक्षण के लिए मॉड्यूल बनाया जा चुका है।

यह भी पढ़ेंः  लगेगी शिक्षा चौपाल, प्रधानाध्यापक बनायेंगे इसकी कार्ययोजना

सरकारी प्राइमरी स्कूलों में एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम चरणबद्ध ढंग से लागू किया जा रहा है। 2024-25 तक कक्षा एक से कक्षा आठ तक में एनसीईआरटी पाठ्यक्रम लागू कर दिया जाएगा।