समूह ‘ग’ भर्ती के लिए प्रदेश के सभी जिलों में आयोजित की जाएगी प्रारंभिक अर्हता परीक्षा

लखनऊ : राज्य सरकार की सेवाओं में भविष्य में विज्ञापित होने वाले समूह ‘ग’ के पदों पर भर्ती के लिए उप्र अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की ओर से आयोजित की जाने वाली प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (पीईटी) प्रदेश के सभी जिलों में आयोजित की जाएगी। अभ्यर्थियों की बड़ी संख्या को देखते हुए आयोग परीक्षा का आयोजन हर जिले में करने की योजना बना रहा है। प्रारंभिक अर्हता परीक्षा के लिए 20.73 लाख अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है।

आयोग प्रारंभिक अर्हता परीक्षा का संचालन कराने वाली एजेंसियों के चयन की प्रक्रिया में जुटा है। प्रदेश के सभी जिलों में परीक्षा के आयोजन के लिए आयोग को पुलिस-प्रशासन की मशीनरी के सहयोग की जरूरत होगी। खासतौर पर परीक्षा की तारीख तय करने में इस बात का खास तौर पर ख्याल रखा जाएगा कि उस दिन प्रशासनिक मशीनरी और पुलिस बल उपलब्ध हो। इस सिलसिले में आयोग के अधिकारियों की जल्द ही मुख्यमंत्री के साथ बैठक होगी। बैठक के बाद प्रारंभिक अर्हता परीक्षा की तारीख की घोषणा हो सकती है। संभावना जताई जा रही है कि प्रारंभिक अर्हता परीक्षा अगस्त में आयोजित होगी। प्रारंभिक परीक्षा के नतीजों के आधार पर आरक्षणवार, श्रेणीवार शार्टलिस्ट किये गए अभ्यर्थियों के लिए समान शैक्षिक योग्यता के आधार पर मुख्य परीक्षाएं आयोजित करायी जाएंगी। आयोग के सूत्रों का कहना है कि पहली मुख्य परीक्षा अक्टूबर में हो सकती है।