बेसिक शिक्षकों को पदोन्नति के लिए जुटाने होंगे अंक हर काम के अलग-अलग अंक तय

जौनपुर। बेसिक शिक्षा विभाग में शिक्षकों की पदोन्नति के लिए अब उनकी सेवा की वार्षिक आख्या तैयार की जाएगी। शिक्षकों के सारे कामकाज के मूल्यांकन के लिए निदेशालय से ही मानक तय कर दिए गए हैं। खंड शिक्षा अधिकारी, बीडीओ और बीएसए के माध्यम से तैयार होने वाली यह आख्या ही प्रमोशन का आधार बनेगी.

निदेशालय का पत्र आने के बाद शिक्षा विभाग में इसकी कवायद शुरू हो गई है। शिक्षकों की पदोन्‍नति के लिए तय की गई नई व्यवस्था के तहत सभी मानक (पैरामीटर्स ) की जांच के बाद खंड शिक्षा अधिकारी 15 अप्रैल तक मानव संपदा पोर्टल पर सबमिट करेंगे। खंड विकास अधिकारी 15 मई तक और बीएसए 31 मई तक अपनी आख्या सबमिट कर देंगे। प्रधानाध्यापकों के काम काज के मूल्यांकन के लिए 12 और सहायक अध्यापकों के लिए 9 पैरामीटर्स बनाए गए हैं। विद्यालय में उपस्थिति से लेकर विद्यालय का परिवेश, शिक्षण कार्य की गुणवत्ता समेत शिक्षकों के अन्य कामकाज के लिए अलग अलग अंक तय किए गए हैं। इसी अंक के आधार पर शिक्षकों की पदोन्‍नति हो सकेगी। बीएसए प्रवीण कुमार तिवारी ने बताया कि शिक्षकों की पदोन्नति के लिए नए शासनादेश के तहत काम शुरू कर दिया गया है। अगले सत्र में नई व्यवस्था के तहत ही शिक्षकों की पदोन्‍नति हो सकेगी।