बीएसए ने नियमों के विपरीत बदले शिक्षकों के स्कूल

बेसिक शिक्षा निदेशक की ओर से जारी एक आदेश के बाद बेसिक शिक्षा अधिकारी की ओर से 4 शिक्षकों का अचानक ब्लाक बदल दिया जाता है। इस संबंध में बीएसए ने बताया कि जो उनको आदेश उच्च अधिकारियों की ओर से प्राप्त हुआ है उसका पालन किया गया है। जबकि नियमों के मुताबिक बिना किसी शासनादेश के ब्लाक टू ब्लाक हो तबादला नहीं किया जा सकता है।

दूसरे जिले से आये शिक्षक जूही को मलिहाबाद का प्राथमिक विद्यालय मवई कला, सरिता सिंह को कैथुलिया नंदिता गुप्ता को मवई कला और रजनी तिवारी को प्राथमिक विद्यालय वीरपुर माल आवंटित किया गया। इसके बाद दस दिनों में ही शिक्षिका जूही को प्राथमिक विद्यालय कल्ली पश्चिम सरोजनी नगर प्रथम, सरिता सिंह को प्राथमिक विद्यालय खरगापुर चिनहट, नंदिता गुप्ता को प्राथमिक विद्यालय कल्ली पश्चिम सरोजनीनगर प्रथम व रजनी तिवारी को प्राथमिक विद्यालय जगपाल खेड़ा में तैनाती दे दी गयी।

जो भी शिक्षकों के स्कूल बदले गये हैं वह ऊपरी अधिकारियों के आदेश से बदले गये हैं। मेरा काम उच्च अधिकारियों के आदेश का पालन करना है। -दिनेश कुमार, बीएसए

ज्यादातर शिक्षिकाएं अंतरजनपदीय स्थानांतरण में आई हैं ।अपर मुख्य सचिव का आदेश था कि ऐसे शिक्षकों को इच्छित जिला और इच्छित न्यायपंचायत दी जाए, लेकिन ब्लॉक से भी दूर दूसरे ब्लाकों में भेजा गया, जो समझ से परे है।
-विनय कुमार सिंह, प्रान्तीय अध्यक्ष, प्राथमिक शिक्षक प्रशिक्षित स्नातक एसोसिएशन