अब 13 भाषाओं में होंगी सभी 12 सरकारी बैंकों में ये भर्तियां

Jobs

भारत सरकार के वित्त मंत्रालय ने सिफारिश की है कि 12 सरकारी क्षेत्र के बैंकों के लिए लिपिकीय भर्तियों (Clerical Vacancy) और अब से विज्ञापित रिक्तियों के संदर्भ में, प्रारंभिक और मुख्य दोनों परीक्षाएं, हिंदी और अंग्रेजी सहित 13 क्षेत्रीय भाषाओं में आयोजित की जाएंगी.

दरअसल, सरकारी क्षेत्र के बैंकों में क्षेत्रीय भाषाओं में लिपिक संवर्ग के लिए परीक्षा आयोजित करने के मामले पर विचार करने के लिए भारत सरकार के वित्त मंत्रालय द्वारा गठित एक समिति की सिफारिश पर आधारित है.

इंस्टीट्यूट ऑफ बैंकिंग पर्सनल सेलेक्शन (Institute of Banking Personnel Selection) द्वारा शुरू की गई परीक्षा आयोजित करने की मौजूदा प्रक्रिया को समिति की सिफारिशें उपलब्ध कराए जाने तक रोक कर रखा गया था.

यह भी पढ़ेंः  69000 भर्ती परीक्षा 2019 में कुल 108 अंक पाने के बाद भी सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा मैं मौका नहीं

समिति ने ये फैसला स्थानीय युवाओं को रोजगार के अवसरों के लिए एक समान अवसर प्रदान करने और स्थानीय/क्षेत्रीय भाषाओं के माध्यम से ग्राहकों के साथ अधिकाधिक जुड़ने के उद्देश्य से काम किया. इससे ग्राहक और बैंक के बीच कम्यूनिकेशन गेप की संभावना कम हो जाएगी.

क्षेत्रीय भाषाओं में लिपिकीय परीक्षा (Clerical Examination) आयोजित करने का यह फैसला आगामी SBI रिक्तियों पर भी लागू होगा, जो पहले से विज्ञापित रिक्तियों के लिए चल रही भर्ती प्रक्रिया के पूरा होने के बाद होगा.

You may Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.