मिड डे मील की जांच में मिली गड़बड़ी

Basicआपूर्ति निरीक्षक डीघ दिनेश कुमार यादव की जांच में मंगलवार को प्राथमिक विद्यालय अरता और पूर्व माध्यमिक विद्यालय बसहीं में बन रहे मिड-डे-मिल में गड़बड़ी मिली। हिदायत दी कि शिक्षक और विद्यालय समिति की लापरवाही कभी बच्चों के लिए मुसीबत बन सकती है। मिड-डे मिल बनाते समय खाद्य सामानों की गुणवत्ता में समझौता न कर तैयार होने के बाद चखकर ही बच्चों को परोसा जाए।

आपूर्ति निरीक्षक ने बताया कि महामारी में परिषदीय स्कूलों को खोलने के बाद पठन-पाठन से लेकर मिड डे मील की गुणवत्ता पर प्रशासन पूरी नजर रख रहा है। डीघ ब्लॉक के कई न्याय पंचायतों के विद्यालयों में दोपहर को मिलने वाले भोजन को लेकर शिकायत मिली थी। उसी क्रम में विद्यालय वार गुणवत्ता परखने के लिए विभागीय टीम के साथ पहुंचे। अरता में चावल सही न होने के बावजूद पकाया गया। बसहीं में दाल पूरी पकी न होने के बावजूद कच्चे हालात में परोसने पर रसोइयों और जिम्मेदारों को फटकार लगाई। आपूर्ति निरीक्षक ने बताया कि गड़बड़ी मिलने की रिपोर्ट शिक्षा अधिकारियों की सौंपी जाएगी।

यह भी पढ़ेंः  उम्मीदवारों का CTET Admit Card 2020 का इंतजार, CTET Exam 5 जुलाई को