जेआरएफ के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों की अधिकतम आयु सीमा बढ़ी

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ( यूजीसी ) ने मई में होने वाली यूजीसी नेट जूनियर रिसर्च फेलोशिप (जेआरएफ) के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों की अधिकतम आयु सीमा बढ़ाकर 31 वर्ष कर दी है। चूंकि पिछले साल दिसंबर में यह परीक्षा नहीं हो सकी थी। इसलिए उम्र सीमा बढ़ाई गई है, ताकि जिन अभ्यर्थियों की उम्र सीमा समाप्त हो गई, वे इसमें शामिल हो सकें। इस बदलाव से बिहार के काफी अभ्यर्थियों को लाभ होगा।

मई सत्र की परीक्षा के लिए अधिकतम आयु सीमा 30 वर्ष से बढ़ाकर 31 वर्ष की गई है। यूजीसी ने नोटिस जारी कर बताया कि पांच वर्ष तक की छूट ओबीसी-एनसीएल, एससी, एसटी, पीडब्ल्यूडी, थर्ड जेंडर के अभ्यर्थियों और महिला आवेदकों को दी गई है। इधर, एलएलएम डिग्री के अभ्यर्थियों को उम्र सीमा में तीन वर्ष की छूट होगी। असिस्टेंट प्रोफेसर पद के लिए कोई अधिकतम आयु सीमा नहीं है। परीक्षा की तिथियों की घोषणा भी कर दी गई है। जो परीक्षाएं दिसंबर में नहीं हो सकी थीं, वे दो, सात, 10, 12, 14 व 17 मई को होंगी। पहली पाली 9-12 सुबह और दूसरी पाली 3 बजे से शाम 6 बजे तक होगी। परीक्षा कुल 3 घंटे की होगी। आवेदन के लिए फीस 3 मार्च तक दी जा सकती है।

– यूजीसी नेट मई 2021 परीक्षा के लिए आवेदन की आखिरी तारीख 2 मार्च है।
– फीस जमा करने की आखिरी तारीख 3 मार्च रात 11.50 बजे तक
– आवेदन फॉर्म में सुधार के लिए 5 मार्च से 9 मार्च तक
– एडमिट कार्ड जारी होने की तिथि वेबसाइट पर बताई जाएगी।

आवेदन शुल्क:
सामान्य वर्ग के उम्मीदवरा के लिए 1000 रुपये
ईडब्लूएस, ओबीसी और एनसीएल के लिए 500 रुपये
एससी, एसटी, दिव्यांग औऱ थर्ड जेंडर के लिए 250 रुपये