मेरिट से चयन की प्रक्रिया समाप्त हो गई

इलाहाबाद: प्रदेश के राजकीय हाईस्कूल कालेजों में 9342 एलटी ग्रेड शिक्षकों का मेरिट से चयन की प्रक्रिया समाप्त हो गई है। शासन ने शिक्षा निदेशक माध्यमिक के प्रस्ताव पर मुहर लगा दी है। इसी के साथ अब यह भर्ती बढ़े हुए पदों पर 9892 के लिए लिखित परीक्षा से होने का रास्ता साफ हो गया है। शासन पहले ही यह भर्ती लिखित परीक्षा से कराने का एलान कर रहा है और यह परीक्षा प्रदान करने का जिम्मा भी यू.पी. लोक सेवा आयोग को सौंप दिया गया है। उप्रदस्थ शिक्षा (स्नातक स्तर की पढ़ाई) सेवा नियमावली 1983 यथा संशोधित (चतुर्थ संशोधन) में दी गई व्यवस्था के तहत प्रदेश के राजकीय हाई स्कूल और मध्य विद्यालय में सहायक शिक्षक भर्ती स्नातक पुरुष व महिला संवर्ग के रिक्त 34342 पदों के लिए चयन प्रक्रिया शुरू। गया था। पिछले वर्ष दिसंबर महीने में इसका विज्ञापन जारी हुआ और योग्यता के आधार पर चयन करने के लिए आवेदन मांगे गए। लगभग नौ लाख से अधिक अभ्यर्थियों ने इसके लिए दाव सूची की। चयन की परामर्श शुरू होने से पहले ही प्रक्रिया रोक दी गई थी। यही नहीं पहली बार प्रदेश में राज्य स्तर पर एलटी ग्रेड शिक्षकों की भर्ती की जा रही थी, क्योंकि इसके पहले स्तर के स्तर पर संयुक्त शिक्षा निदेशक भर्ती चल रही है। इसलिए अपर शिक्षा निदेशक माध्यमिक की अगुवाई में चयन समिति भी बनी हुई थी।

चयन प्रक्रिया खत्म क्यों?: एलटी ग्रेड शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया खत्म करने का एलान इसलिए करना पड़ा है, क्योंकि पिछली बार जिन आवेदकों ने डे सूची की वह मेरिट के आधार पर नियुक्ति के इच्छुक थे। सूबे की भाजपा सरकार ने इसकी नियुक्ति लिखित परीक्षा से कराने का एलान कर दिया। इसके विरोध में तमाम अभ्यर्थी हाईकोर्ट आदि में याचिकाएं दाखिल कर रहे थे। उनका कहना था कि भर्ती घोषित की गई नियमावली व विज्ञापन के आधार पर किया जाना चाहिए। प्रक्रिया बदलने का निर्णय होने के बाद मध्य विद्यालय शिक्षा न्यासालय ने शासन को प्रस्ताव भेजा कि पुरानी प्रक्रिया को समाप्त घोषित किया जाए। इस पर संयुक्त सचिव हरी शंकर भट्ट ने नाराज आदेश जारी कर दिया है।

शासन ने योग्यता से होनी चाहिए भर्ती प्रक्रिया खत्म करने पर लगाई मुहर, अब लोक सेवा आयोग 9892 पद पर लिखित परीक्षा के द्वारा भर्ती। लोक सेवा आयोग नए सिरे से एलटी ग्रेड शिक्षकों की भर्ती के लिए विज्ञापन जारी करेगा, जबकि लिखित परीक्षा से यह भर्ती 9892 पदों पर होगी। शासन के निर्देश पर शिक्षा निदेशालय ने इसका प्रस्ताव यू.पी. सार्वजनिक सेवा आयोग को पहले ही भेज दिया गया है, जो पद बढ़े हैं वह पिछले शैक्षिक सत्र में रिक्तियों होने वाले एलटी ग्रेड शिक्षकों के हैं। आयोग के सचिव जगदीश ने बताया कि 16 विषयों का सिलेबस तैयार हो रहा है। यह पूरा होते ही आयोग इसका नया सिरे से विज्ञापन जारी करके आवेदन लेगा। नए साल में इसकी परीक्षा का कार्यक्रम आयोग के वार्षिक कैलेंडर में जारी होगा।

 LT Grade Teacher Recruitment Process Finished

36 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.