यूपीपीएससी की परीक्षा नियंत्रक अंजू कटियार गिरफ्तार

वाराणसी : LT grade exam paper leak case मामले में उप्र लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) की परीक्षा नियंत्रक अंजू कटियार को आखिरकार गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया गया। स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने तीन दिनों में लगभग 10 घंटे तक उनसे पूछताछ की। वह सवालों का समुचित जवाब नहीं दे सकीं। मोबाइल, लैपटॉप की जांच से भी उनकी संलिप्तता पाई गई। दोपहर में उन्हें गिरफ्तार कर एसटीएफ टीम वाराणसी ले गई। देर शाम पंडित दीन दयाल अस्पताल में मेडिकल के बाद परीक्षा नियंत्रक को विशेष न्यायाधीश (भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम) लालचंद के आवास पर पेश किया गया। वहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जिला जेल भेज दिया गया। रात करीब नौ बजे अंजू को जेल में दाखिल कराया गया।

प्रयागराज में बुधवार को एसटीएफ ने छानबीन के बाद उनका मोबाइल व लैपटॉप जब्त कर लिया था। आयोग के मुख्यालय स्थित आवास और कार्यालय से कई फाइल भी सील की गई थी। पेपर लीक से जुड़े कई अहम साक्ष्य मिलने के बाद उनकी गिरफ्तारी तय मानी जा रही थी।

गुरुवार सुबह वाराणसी के एसपी (क्राइम) ज्ञानेंद्र सिंह, सीओ अनिल राय और सीओ एसटीएफ नवेंदु कुमार टीम के साथ फिर आयोग पहुंचे। यहां परीक्षा नियंत्रक से करीब दो घंटे सवाल-जवाब हुआ। संतोषजनक जवाब न देने पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। उल्लेखनीय है कि मंगलवार को एसटीएफ वाराणसी ने कोलकाता निवासी प्रिंटिंग प्रेस मालिक कौशिक कुमार को पेपर लीक मामले में गिरफ्तार किया था।

पूछताछ में उसने अंजू कटियार को 10 लाख रुपये देने की बात कबूल की थी। इनके बीच वाट्सएप पर भी बातचीत होती थी, इसकी पुष्टि कौशिक के मोबाइल से हुई थी। मंगलवार देर रात सर्च वारंट लेकर पहुंची एसटीएफ ने आवास में छानबीन करते हुए चार घंटे अंजू से पूछताछ की थी। परीक्षा नियंत्रक की गिरफ्तारी के बाद एसटीएफ अब अन्य बिंदुओं पर जांच कर रही है।

सात लोग अभी फरार: इस मामले में शामिल जौनपुर के रंजीत, संजय, अजीत, अजय चौहान, गाजीपुर के शैलेंद्र, प्रभुदयाल और वाराणसी के गणोश की तलाश अब शुरू हुई है। इन सभी के खिलाफ वाराणसी के चोलापुर थाने में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम समेत अन्य धाराओं में एसटीएफ की ओर से रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

पर्याप्त साक्ष्य मिलने पर परीक्षा नियंत्रक के खिलाफ मुकदमा लिखाया गया था। उन्हें गिरफ्तार कर वाराणसी भेजा गया है। इस मामले में अगर किसी और की संलिप्तता मिलती है तो उसके विरुद्ध भी नियमानुसार कार्रवाई होगी।’ नवेंदु कुमार, सीओ एसटीएफ।

वाराणसी में परीक्षा नियंत्रक अंजू लता को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया इस दौरान वो मीडिया के सवालों से बचती नजर आयीं।LT Grade Shikshak Bharti

0 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.