क्या आप जानते हैं सीटीईटी और यूपीटीईटी के इन नियमों में हुआ है बड़ा फेर बदल?, अगर नहीं तो पढ़ें यह पोस्ट

सीबीएसई द्वारा आयोजित किए जाने वाले केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा और UPBEB द्वारा आयोजित किए जाने वाले उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए अभी तक तारीखों की घोषणा नहीं होने से अभ्यर्थी काफी परेशान हैं। गौरतलब है कि केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड करती है और उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन उत्तर प्रदेश बेसिक एजुकेशन बोर्ड द्वारा किया जाता है। इन दोनों शिक्षक पात्रता परीक्षाओं का देश मे काफी महत्व है, क्योंकि इसमें लाखों की संख्या में अभ्यर्थी शामिल होते हैं।

कब तक हो सकता है इन परीक्षाओं का आयोजन :
केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा तथा उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा दोनों पात्रता परीक्षाएं इस वक्त अपने समय से काफी पीछे चल रही हैं और दोनों का अभ्यर्थी बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए अगस्त महीने के आखिर तक नोटिफिकेशन जारी हो सकता है तथा इसके लिए दिसंबर तक परीक्षाओं का आयोजन हो सकता है। उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा का भी आयोजन दिसंबर माह तक करवाए जाने की उम्मीद है।

यह भी पढ़ेंः  सीटेट के आयोजन में देरी से नॉन सीटेट अतिथि शिक्षकों में बेचैनी

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा में हुआ है यह महत्वपूर्ण बदलाव :
सीबीएसई द्वारा आयोजित किए जाने वाले केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा में इस बार कुछ अहम बदलाव किए गए हैं। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा की डिग्री को इस बार जहाँ पूरे लाइफटाइम के लिए मान्य कर दिया गया है, तो वहीं CBSE ने केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों के पैटर्न में भी थोड़ा बदलाव किया है। दरअसल बोर्ड ने आधिकारिक वेबसाइट पर एक नोटिस जारी करके यह सूचना दी है कि इस परीक्षा में अब नई शिक्षा नीति के मुताबिक प्रश्न पूछे जाएंगे। इस नोटिस के मुताबिक केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा में अब तथ्यात्मक ज्ञान और अधिक वैचारिक समझ वाले प्रश्न पूछे जाएंगे। साथ ही इस परीक्षा का आयोजन भी अब ऑफलाइन की जगह ऑनलाइन तरीके से किया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः  शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) के प्रमाण पत्र की वैधता अब रहेगी आजीवन

उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा में किया गया है यह अहम बदलाव :
UPBEB ने भी उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा में कुछ अहम बदलाव किए हैं। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा की तर्ज पर उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा की भी डिग्री को अब पूरे लाइफटाइम के लिए मान्य कर दिया गया है। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन साल में एक बार किया जाता है तो वहीं केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन साल में 2 बार किया जाता है।