अंग्रेजी विषय की शिक्षिकाओं को सरकार अंग्रेजी में दक्ष बनाएगी

kasturbaगोरखपुर: कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों की अंग्रेजी विषय की शिक्षिकाओं को सरकार अंग्रेजी में दक्ष बनाएगी। बेसिक शिक्षा विभाग ने आंग्ल भाषा शिक्षण संस्थान प्रयागराज (ईएलटीआइ) को यह जिम्मेदारी सौंपी है। संस्था द्वारा पाठ्यक्रम तैयार कर लिया गया है, जो एक अक्टूबर से 31 दिसंबर के बीच दीक्षा पोर्टल पर उपलब्ध होगा और इसी अवधि में इसका प्रशिक्षण पूर्ण करना अनिवार्य होगा।

कस्तूरबा स्कूलों के अधिकांश शिक्षक हंिदूी माध्यम से शिक्षा ग्रहण करके सेवा में आते हैं। उनका कार्य क्षेत्र भी ग्रामीण पृष्ठभूमि में होता है। इस कारण उनमें अंग्रेजी भाषा में बोलने की क्षमता का उचित विकास नहीं हो पाता है। इसे देखते हुए विभाग ने उनकी अंग्रेजी भाषा में बोलने की क्षमता को बढ़ाने के लिए आनलाइन स्पोकेन इंग्लिश पाठ्यक्रम तैयार कराया है। आनलाइन प्रशिक्षण के लिए विभाग ने इसे दीक्षा पोर्टल पर अपलोड कर दिया है।

यह भी पढ़ेंः  बोर्ड को सहायक अध्यापक सिलाई का रिजल्ट जल्द घोषित करने का आदेश

महानिदेशक स्कूल शिक्षा ने जिला समन्वयक बालिका शिक्षा को कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय के अंग्रेजी भाषा की शिक्षिकाओं को जनपद स्तर पर बैठक आयोजित कर प्रशिक्षण के लिए प्रेरित करने को कहा है। साथ ही जिला समन्वयक को यह सुनिश्चित करना होगा कि शिक्षिकाएं प्रशिक्षण पूर्ण कर डिजिटल प्रमाण पत्र प्राप्त कर लें। यहां कस्तूरबा विद्यालयों में अंग्रेजी विषय की कुल 20 शिक्षिकाएं हैं।

राज्य परियोजना को भेजनी होगी रिपोर्ट: शिक्षिकाओं का जनपदवार प्रशिक्षण पूर्ण होने के बाद जिला समन्वयक बालिका शिक्षा इसकी रिपोर्ट राज्य परियोजना कार्यालय को उपलब्ध कराएंगे। इसमें प्रशिक्षण व डिजिटल प्रमाण पत्र प्राप्त करने वाली शिक्षिकाओं की संख्या भी देनी होगी।

यह भी पढ़ेंः  इंटरनेट ने रोकी ऑनलाइन शिक्षा की रेस

कस्तूरबा विद्यालय के अंग्रेजी विषय की शिक्षिकाओं को प्रशिक्षित करने के लिए महानिदेशक स्कूल शिक्षा का निर्देश प्राप्त हो चुका है। निर्धारित समय सीमा के अंदर प्रशिक्षण पूर्ण कराकर रिपोर्ट भेज दी जाएगी।

डा. ज्ञान प्रकाश राय, जिला समन्वयक, बालिका शिक्षा