राजकीय विद्यालयों में तैनात एलटी ग्रेड सहायक अध्यापकों के लिए अच्छी खबर

Teacherप्रयागराज: राजकीय विद्यालयों में तैनात एलटी ग्रेड सहायक अध्यापकों के लिए अच्छी खबर है। सैकड़ों की संख्या में सहायक अध्यापकों को प्रवक्ता के पदों पर प्रोन्नत कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) में मंगलवार को हुई विभागीय प्रोन्नति समिति (डीपीसी) की बैठक में प्रमोशन पर अंतिम मुहर लगाई गई। प्रमोशन के लिए डीपीसी 12 साल बाद हुई है। ऐसे में शिक्षकों को प्रमोशन के लिए एक दशक से अधिक समय तक इंतजार करना पड़ा।

डीपीसी की बैठक में प्रमोशन पर मुहर लगने के बाद राजकीय विद्यालयों में तैनात 794 एलटी ग्रेड सहायक अध्यापक अब प्रवक्ता बन गए हैं। पदोन्नति के लिए चार बार डीपीसी की तिथि निर्धारित की गई, लेकिन कुछ कारणों से बैठक नहीं हो सकी। मंगलवार को हुई डीपीसी की बैठक में दस विषयों के 794 सहायक अध्यापकों को प्रवक्ता पद पर प्रोन्नत किया। डीपीसी की बैठक में आयोग के संयुक्त सचिव ओम प्रकाश मिश्रा, अनुभाग अधिकारी शिखा पांडे, शिक्षा निदेशक माध्यमिक विनय कुमार पांडे अपर शिक्षा निदेशक राजकीय अंजना गोयल एवं प्रवक्ता अनुभाग के वरिष्ठ सहायक मौजूद रहे। राजकीय शिक्षक संघ उत्तर प्रदेश के महामंत्री रामेश्वर पांडेय ने प्रवक्ता के पद पर प्रोन्नत सभी शिक्षकों को बधाई दी है। शिक्षकों के प्रमोशन के लिए जारी संघर्ष में संघ के राजनाथ यादव, रामफल भारती, रवि प्रकाश त्रिपाठी एवं संगठन की अध्यक्ष छाया शुक्ला और सत्य शंकर मिश्रा का भी विशेष योगदान रहा।

यह भी पढ़ेंः  सूबे के अलग-अलग विभागों में खाली पदों को भरने की कवायद तेज