मदरसे समेत मुरादाबाद के चार हजार स्कूल जांच के घेरे में

मुरादाबाद : जनधन समेत अन्य बैंक अकाउंट में रुपये आने के प्रकरण में पता चला है कि 1741 बैंक खातों में से सिर्फ 14 अकाउंट ऐसे मिले हैं, जो मुरादाबाद के छात्रों के हैं। बाकी 1,727 बैंक अकाउंट में रामपुर अल्पसंख्यक विभाग से ही डेटा भेजा गया है। छात्रवृत्ति के हस्तांतरण में इतनी बड़ी चूक मिलने पर रामपुर अल्पसंख्यक विभाग से जवाब माँगा गया है। वहीं मदरसों से लेकर मुरादाबाद के चार हजार छोटे-बड़े स्कूलों की भी जांच शुरू कर दी गई है।

बता दें कि हाल ही में मुरादाबाद के कई बैंक अकाउंट में में 1700 और 9300 रुपये पहुंचे थे। बैंक अकॉउंट में पैसा कहां से और किसके जरिए भेजा गया, प्रशासनिक अमला इसका पता लगाने में जुट गया था। इस वाकये से चुनाव आयोग में हड़कंप मच गया था। जांच में पता चला कि यह पैसा मुंबई की स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के सीएमपी सेंटर शाखा से अल्पसंख्यक विभाग की छात्रवृत्ति के रूप में भेजा गया है। मंगलवार तक 1,700 खाते सामने आए थे। इसी क्रम में बुधवार को 41 बैंक अकाउंट और जुड़ गए। इनमें धनराशि हस्तांतरित हुई थी। इन अकाउंट की पड़ताल के बाद पता चला कि 14 खाते ऐसे हैं जोकि मुरादाबाद के छात्रों के हैं और मुरादाबाद से ही इनका डेटा भेजा गया था। इसके बाद अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी ने मौके पर जाकर सभी 14 छात्रों का सत्यापन किया। बाकी के 1,727 अकाउंट में रामपुर से ही अल्पसंख्यक विभाग ने डेटा भेजा है, जबकि धनराशि मुरादाबाद में अपात्रों के खाते में आ गई।

0 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.