सीसी कैमरे से वीडियो रिकॉर्डिग के सख्त आदेश के बाद UP Board का लचीला रवैया

लखनऊ : 15 दिसंबर से होने वाली यूपी बोर्ड की प्रयोगात्मक परीक्षा में सीसी कैमरे से वीडियो रिकॉर्डिग के सख्त आदेश के बाद बोर्ड ने लचीला रुख अपनाया है। अब मोबाइल से वीडियो रिकॉर्डिग करने के निर्देश जारी किए गए हैं। यह लचीला रुख बोर्ड ने विद्यालय प्रबंधन की हठधर्मिता के कारण अपनाया है, क्योंकि माध्यमिक शिक्षा परिषद ने 19 नवंबर को जारी पत्र में सभी विद्यालयों की दसवीं और बारहवीं की प्रयोगात्मक परीक्षा की वीडियो रिकॉर्डिग सीसी कैमरे से कराने के निर्देश दिए थे। आदेश के बाद भी 70 फीसद से अधिक विद्यालयों ने लैब में सीसी कैमरे नहीं लगवाए।

जिला विद्यालय निरीक्षक ने सभी विद्यालयों को परिषद के आदेश का हवाला देते हुए लैब में जहां प्रयोगात्मक परीक्षाएं होंगी, वहां पर सीसी कैमरे लगवाने के निर्देश जारी किए थे। इस बीच परीक्षण में पता चला कि 70 फीसद से अधिक कॉलेजों के लैब में सीसी कैमरे नहीं हैं। इसके बाद परिषद पलटा और स्कूलों की कमियां छुपाते हुए आनन-फानन में मोबाइल से भी प्रयोगात्मक परीक्षा की रिकॉर्डिग के निर्देश जारी कर दिए। माध्यमिक शिक्षा परिषद की सचिव द्वारा तीन दिसंबर को जारी पत्र में कहा गया कि सीसी कैमरों के साथ ही मोबाइल से भी प्रयोगात्मक परीक्षा की वीडियो रिकॉर्डिग करें।

मोबाइल से कैसे होगी रिकॉर्डिग : विशेषज्ञों के अनुसार, इंटर में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी के प्रैक्टिकल में 40-50 बच्चों का बैच बनता है। प्रैक्टिकल में करीब तीन से चार घंटे का समय लगता है। मोबाइल से इतनी रिकॉर्डिग संभव नहीं है। डीआइओएस ने बताया कि परिषद ने विद्यालयों की लैब में प्रयोगात्मक परीक्षा के दौरान सीसी कैमरे अथवा मोबाइल से वीडियो रिकार्डिग के निर्देश दिए हैं। निर्देश सभी विद्यालय के प्रिंसिपल और प्रबंधकों को जारी कर दिए गए हैं।

10वीं और 12वीं की यूपी बोर्ड की प्रयोगात्मक परीक्षा के लिए परीक्षक को कॉलेज के मुख्य गेट पर खड़े होकर मोबाइल से सेल्फी लेनी होगी। बाद में यह फोटो क्षेत्रीय कार्यालय में भेजकर अपनी हाजिरी दर्ज करानी होगी। तीन दिसंबर को माध्यमिक शिक्षा परिषद ने यह आदेश सूबे के सभी जिला विद्यालय निरीक्षक और यूपी बोर्ड से संबद्ध स्कूलों को जारी किए हैं।

आंतरिक परीक्षा के प्राप्तांक परिषद की वेबसाइट पर करना होगा अपलोड : सभी प्रधानाचार्यो को आदेश दिए गए हैं कि 10वीं की प्रयोगात्मक परीक्षा नैतिक योग, खेल एवं शारीरिक शिक्षा की परीक्षा। 12वीं की नैतिक योग, खेल एवं शारीरिक परीक्षा विद्यालय द्वारा आंतरिक ली जाएगी। उसके प्राप्तांक प्रधानाचार्य के माध्यम से 15 नवंबर से ही परिषद की वेबसाइट पर अपलोड करना होगा।

ये भी पढ़ें : परीक्षकों को प्रायोगिक परीक्षा केंद्र पर अपना नियुक्ति पत्र और पहचानपत्र रखना होगा

सात दिसंबर तक नियुक्त हो परीक्षक : माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से प्रयोगात्मक परीक्षकों के नियुक्ति पत्र, विद्यालयों के फारवर्डिग एवं शिफ्टिंग पत्र सात दिसंबर तक डीआइओएस कार्यालय को भेजे जाएंगे। इसके बाद यह पत्र संबंधित विद्यालयों को जाएंगे जहां से परीक्षक एकत्रित करेंगे।

सात केंद्रों पर जांची जाएंगी यूपी बोर्ड परीक्षा की कॉपियां

यूपी बोर्ड 10वीं, 12वीं की परीक्षा कॉपियों का मूल्यांकन राजधानी के सात विद्यालयों में कराया जाएगा। बोर्ड से जारी आदेश के बाद जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय द्वारा विद्यालयों से सहमति पत्र मांगा है।

इन केंद्रों में होगा मूल्यांकन

’ जुबिली इंटर कॉलेज’ हुसैनाबाद इंटर कॉलेज’ राजकीय इंटर कॉलेज निशातगंज’ अमीनाबाद इंटर कॉलेज’ लखनऊ मांटेसरी स्कूल, पुराना किला सदर’ सेंटीनियल इंटर कॉलेज’ अमीरुद्दौला इस्लामिया इंटर कालेज।

परिषद ने जारी किए आदेश, फोटो खींचकर क्षेत्रीय कार्यालय को भेजना होगा, गेट से लेनी होगी सेल्फी, बैक ग्राउंड में दिखे कॉलेज का नाम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.