कूटरचित दस्तावेज के सहारे परिषदीय स्कूलों में नौकरी हासिल करने वाले पांच शिक्षकों किया बर्खास्त

गोरखपुर। कूटरचित दस्तावेज के सहारे परिषदीय स्कूलों में नौकरी हासिल करने वाले पांच शिक्षकों को बेसिक शिक्षा विभाग ने सोमवार को बर्खास्त कर दिया। सभी आरोपियों के खिलाफ विभाग को फर्जी होने की शिकायत मिली थी। प्राथमिक जांच के दौरान आरोप सही पाए जाने पर शिक्षकों को निलंबित कर इसकी जांच संबंधित खंड शिक्षा अधिकारी को सौंप दी गई थी। उनकी रिपोर्ट के आधार पर आरोपियों को बर्खास्त किया गया है। बड़हलगंज ब्लॉक के पूर्व माध्यमिक विद्यालय महुलिया पोयल में कृष्णानंद राय का स्वतंत्रता संग्राम सेनानी आश्रित प्रमाणपत्र फर्जी पाया गया। सरदानगर ब्लॉकमें प्राथमिक विद्यालय बसंतपुर की शिक्षिका की रिंकू सिंह के सभी अंकपत्र व प्रमाण पत्र सत्यापन में फर्जी मिले। वहीं
सरदारनगर ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय चौरी नंबर दो मीना देवी मऊ में तैनात शिक्षिका के नाम पर नौकरी करने के आरोप में बर्खास्त की गई हैं। इसी ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय खजुहा में प्रधानाध्यापक पद पर तैनात लालचंद्र राम के हाईस्कूल व इंटर दोनों अंकपत्र फर्जी होने तथा प्राथमिक विद्यालय मुंडेरा बाजार प्रथम में तैनात शिक्षिका रूपम राय गाजियाबाद जिले में कार्यरत शिक्षक के अभिलेखों के आधार पर नौकरी करने के मामले में बर्खास्त की गई हैं।