सलेमपुर बघाई में छज्जा गिरने से पांच वर्षीय बच्चे की मौत की घटना को लेकर अभिभावकों में भय बरकरार

  

Basicगाजीपुर : सादात ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय सलेमपुर बघाई में छज्जा गिरने से पांच वर्षीय बच्चे की मौत की घटना को लेकर अभिभावकों में भय बरकरार है। घटना के तीसरे दिन बृहस्पतिवार को विद्यालय में सिर्फ 36 बच्चे की उपस्थित रहे। अभी स्कूल और पूरे गांव का माहौल गमगीन है।

बेसिक शिक्षा अधिकारी ने निर्देश दिया है कि प्राथमिक विद्यालय में प्रतिदिन बीईओ या कोई मातहत अधिकारी मौजूद रहेगा। बृहस्पतिवार को बीईओ एस एन प्रजापति स्कूल में पहुंचे थे। बीईओ का कहना है कि जब वह विद्यालय पहुंचे तो थोड़ी देर बाद बच्चों का मिड डे मिल तैयार था। बच्चों ने खाना खाया लेकिन बच्चों में चलह-पहल नहीं दिखी। अभी अभिभावक भी बच्चों को स्कूल कम ही भेज रहे हैं। एक-दो दिन में माहौल ठीक हो जाएगा। यहां 121 बच्चों का पंजीकरण है। बीईओ ने बताया कि ब्लॉक के ही तीन-चार शिक्षकों ने पीड़ित परिवार को कुछ आर्थिक मदद करने के लिए संपर्क शुरू कर दिया है। जल्द ही पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता दी जाएगी। दरअसल, मृतक आदित्य के पिता गुजरात में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करते हैं। ऐसे में परिवार की आर्थिक स्थिति दयनीय है। जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह ने बताया कि परिवार गरीब है। उसको जल्दी ही किसी योजना का लाभ दिलाया जाएगा।

नया छज्जा किया गया तैयार

गाजीपुर। प्राथमिक विद्यालय सलेमपुर बघाई में जिस छज्जा के गिरने से मामूस छात्र आदित्य की जान चली गई थी। उस छज्जे की जगह दो मिस्त्री और तीन मजदूरों लगा कर नया छज्जा तैयार किया गया है। साथ ही पुराने निर्माण में शामिल अतिरिक्त कक्षा-कक्ष के एक और छज्जा के लटके होने पर उसे तोड़कर नया निर्माण कराया जाएगा।

एक बार सभी प्रधानाचार्यों से बिल्डिंग, बाउंड्री और स्कूल की पुराने निर्माण के संबंध में रिपोर्ट मांगी गई है। जहां भी कोई दिक्कत होगी उसको तुरंत दुरुस्त कराया जाएगा ताकि नौनिहालों की सुरक्षा में कोई कमी न रहे।-मंगला प्रसाद सिंह, जिलाधिकारी

You may Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *