बिगड़ता नजर आ रहा परीक्षा कैलेंडर

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग (यूपीपीएससी) का परीक्षा कैलेंडर कोरोना वायरस के प्रभाव से बिगड़ता नजर आ रहा है। जुलाई 2019 से फरवरी 2020 तक सारा काम परीक्षा कैलेंडर के अनुरूप हुआ। तय तारीख पर परीक्षाएं कराने के साथ समयबद्ध तरीके से रिजल्ट जारी हुए। लेकिन, इधर कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन से सारी व्यवस्था ध्वस्त हो गई। इससे 22 मार्च को खंड शिक्षाधिकारी 2019 प्री और पांच अप्रैल को प्रस्तावित कंप्यूटर सहायक परीक्षा 2019 को स्थगित कर दिया गया।

पीसीएस 2019 मुख्य परीक्षा पर भी संकट के बादल छाए हैं। यह परीक्षा 20 अप्रैल को प्रस्तावित है। लॉकडाउन 14 अप्रैल तक घोषित है। ऐसी स्थिति में बचे समय में परीक्षा कराना मुश्किल नजर आ रहा है। लोकसेवा आयोग ने दस जनवरी को 2020 का परीक्षा कैलेंडर जारी किया था। परीक्षा कैलेंडर में सालभर में 16 परीक्षाएं कराने की तारीख तय थी। बाद में उसमें 14 जनवरी को आरओ/एआरओ 2016 की प्री परीक्षा तीन मई को कराने की तारीख जोड़ी गई। इससे परीक्षाओं की संख्या बढ़कर 17 हो गई।

आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि परीक्षाएं टलने का विपरीत असर पूरे परीक्षा कैलेंडर पर पड़ेगा। इससे आगे की परीक्षाएं भी तय तारीख पर नहीं हो पाएंगी।

2020 में अप्रैल से प्रस्तावित हैं इम्तिहान

’ पांच अप्रैल : कंप्यूटर सहायक (उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग) परीक्षा 2019’ 20 अप्रैल से : सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा (सामान्य चयन/विशेष चयन) मुख्य परीक्षा 2019’ तीन मई : आरओ/एआरओ 2016 प्री परीक्षा’ 16 मई से : सहायक अभियोजन अधिकारी (मुख्य) परीक्षा 2018’ सात जून : सम्मिलित राज्य अभियंत्रण सेवा (सामान्य चयन/विशेष चयन) परीक्षा 2019’ 21 जून : सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा (पीसीएस) प्रारंभिक परीक्षा 2020 व सहायक वन संरक्षक (एसीएफ) क्षेत्रीय वन अधिकारी (आरएफओ) परीक्षा 2020 ’ 30 जून : उद्योग विभाग उत्तर प्रदेश के अंतर्गत सहायक प्रबंधक (गैर तकनीकी) स्क्रीनिंग परीक्षा 2016 ’ 16 अगस्त से : सहायक वन संरक्षक/क्षेत्रीय वन अधिकारी (मुख्य) परीक्षा 2019 ’ 13 सितंबर : खंड शिक्षाधिकारी मुख्य परीक्षा 2019 ’