पुरानी पेंशन बहाली के लिए आंदोलन को धार देते हुए कई विभागों के कर्मचारी

पुरानी पेंशन बहाली के लिए आंदोलन को धार देते हुए कई विभागों के सेवारत व सेवानिवृत्त कर्मियों ने गुरुवार को मंच साझा कर सरकार की नीतियों के खिलाफ हुंकार भरी। शिक्षा निदेशालय के गेट के समीप जुटे कर्मचारियों में प्रदेश भर से भागीदारी हुई। दिल्ली व अन्य राज्यों से भी कर्मचारी नेताओं ने आकर आंदोलन को ताकत दी। कहा कि दिल्ली, केरल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश की सरकारों की तरह उत्तर प्रदेश में भी सरकार को सकारात्मक कदम उठाना होगा।

सिटीजेंस ब्रदरहुड, इलाहाबाद के बैनर तले जुटे वर्तमान और सेवानिवृत कर्मचारियों ने एकजुट होकर सरकार की नीतियों को कोसा, और अपनी समस्याएं बताईं। एक्टू के राष्ट्रीय सचिव व डीटीसी नई दिल्ली के अध्यक्ष कामरेड संतोष कुमार राय, नार्थ सेंट्रल रेलवे वर्कर्स यूनियन इलाहाबाद के संरक्षक कामरेड एसएन ठाकुर, कान्फेडरेशन ऑफ सेंट्रल गवर्नमेंट एम्प्लाइज के राष्ट्रीय सहायक महासचिव सुभाषचंद्र पांडेय, अटेवा के प्रदेश उपाध्यक्ष डा.हरि प्रकाश यादव, नार्थ रेलवे वर्कर्स यूनियन इलाहाबाद के केंद्रीय महामंत्री मनोज पांडेय, एजी ब्रदरहुड के पूर्व अध्यक्ष केएस दुबे वक्ताओं में मुख्य थे। कहा गया कि आठ और नौ जनवरी को केंद्रीय श्रम संगठनों और कर्मचारी संगठनों की देशव्यापी हड़ताल सरकार को पुरानी पेंशन बहाली का आदेश जारी करने के लिए मजबूर कर देगी।

पढ़ें- Madhyamik Shiksha Parishad Holiday List 2019

up purani pension news

0 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *