UP Board Mission Topper: डीआइओएस ने विद्यालयों से मांगी आख्या

UP Board Mission Topper: मिशन टॉपर के लिए विद्यार्थियों के लिए परिषद द्वारा जारी की गई गाइड लाइन के आधार पर अबतक विद्यालयों ने क्या किया? इस बाबत डीआइओएस डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने रविवार को सभी विद्यालयों के प्रिंसिपल को निर्देश जारी कर आख्या मांगी है। विद्यालयों को इस संबंध में 13 जनवरी तक आख्या डीआइओएस कार्यालय स्थित परीक्षा कार्यालय में उपलब्ध करानी है।

मिशन टॉपर के लिए परिषद द्वारा विद्यालयों को जारी किए गए थे यह निर्देश :

  • विद्यार्थियों में बोर्ड परीक्षा के समय काफी तनाव हो जाता है। ऐसे विद्यार्थियों की अध्यापकों अथवा शिक्षाविदों द्वारा काउंसिलिंग कराई जाए।
  • दिसंबर माह में आयोजित प्री-बोर्ड परीक्षा के परिणाम के आधार पर विद्यार्थियों की विषयवार कठिनाइयों को चिन्हित कर उनका निवारण करें।
  • बोर्ड परीक्षा में सर्वोच्च अंक पाने के उद्देश्य विद्यार्थियों को मॉडल पेपर के प्रश्नों से अभ्यास कराया जाए।
  • विद्यालयों द्वारा प्री-बोर्ड परीक्षा में बनाए गए प्रश्नपत्रों को जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय द्वारा कॉलेज की वेबसाइट पर अपलोड किया गया है। उससे अभ्यास कराएं।
  • विद्यालय की प्री-बोर्ड परीक्षा में सर्वोच्च अंक पाने वाले विद्यार्थियों की उत्तर पुस्तिका को कॉलेज और जनपद की वेबसाइड पर अपलोड करें।
  • प्री-बोर्ड में सर्वोच्च अंक पाने वाले विद्यार्थियों के माता-पिता, अध्यापक, प्रिंसिपल और शिक्षाधिकारी का आपस में संपर्क कराया जाए। विद्यार्थी का मनोबल बढ़ाएं।
  • कमजोर छात्रों को अतिरिक्त शिक्षण कक्षाओं की व्यवस्था की जाए।
  • विद्यार्थियों को मोबाइल और टीवी से विशेष परिस्थितियों के अतिरिक्त परीक्षा के समय इनसे दूर रहने के लिए प्रेरित करें।
  • बोर्ड परीक्षा की तैयारी के लिए विद्यालय के पश्चात कम से कम छह घंटे स्वाध्याय करने के लिए प्रेरित करें।
  • परीक्षा के दौरान एकाग्रत बनाए रखने एवं स्वस्थ रहने हेतु विद्यार्थी हरी सब्जियों, दुग्ध एवं ताजे मौसमी फलों का सेवन करें।
  • बोर्ड परीक्षा के 75 दिन बचे हैं। इस लिए विषय वार समयावधि को विभाजित कर अध्ययन करें। लेखन शैली वर्तनी पर विशेष ध्यान दें।

ये भी पढ़ें : यूपी बोर्ड परीक्षा: टॉपरों से सफलता के गुर सीखेंगे परीक्षार्थी

टॉपर्स को पूर्व की भांति मुख्यमंत्री करेंगे सम्मानित बनेगी नाम पर सड़क

डीआइओएस डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने बताया कि यूपी, सीबीएसई, आइसीएसई की 10वीं और 12वीं की परीक्षा में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को मुख्यमंत्री एक लाख रुपये, पुरस्कार, टैबलेट, मैडल, प्रमाणपत्र दिया जाएगा। इसके साथ ही ‘गौरव पथ’ के रूप में टॉपर विद्यार्थी के नाम से उसके घर से पक्की लिंक रोड का निर्माण किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.