माध्यमिक स्कूलों को चमकाने के लिए ‘डेवलपमेंट प्लान’

  

लखनऊ: माध्यमिक स्कूलों को चमकाने के लिए डेवलपमेंट प्लान तैयार करवाया जा रहा है। स्कूल की जरूरत के अनुसार उसकी तस्वीर बदली जाएगी। सभी जिलों में प्रधानाचार्य अपने-अपने विद्यालय का डेवलपमेंट प्लान जिला विद्यालय निरीक्षक (डीआइओएस) की मदद से तैयार कर रहे हैं। स्कूलों में मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए सरकारी मदद देने के साथ-साथ निजी संस्थाओं की भी मदद ली जाएगी। नए शैक्षिक सत्र 2020-21 की शुरुआत से पहले स्कूलों की सूरत बदलने की कवायद की जा रही है। उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा की ओर से सभी अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वह अपनी निगरानी में स्कूल डेवलपमेंट प्लान तैयार करवाएं। तमाम निजी संस्थान कारपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी (सीएसआर) के तहत आर्थिक मदद करना चाहती हैं। कई स्कूलों ने निजी संस्थाओं से मदद लेकर अपनी सूरत और बेहतर की है। वहीं अब शिक्षकों के बाद विद्यार्थियों की भी बॉयोमीटिक उपस्थिति दर्ज करवाने की तैयारी की जा रही है।

You may Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *