उत्तर प्रदेश में आम आदमी पार्टी की सरकार बनने की दशा में पहले बजट का 25 फीसद शिक्षा

उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदियाप्रयागराज : दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने गुरुवार को यहां कहा कि उत्तर प्रदेश में आम आदमी पार्टी की सरकार बनने की दशा में पहले बजट का 25 फीसद शिक्षा व्यवस्था सुधारने पर खर्च होगा। मौजूदा राज्य सरकार पर शिक्षा व्यवस्था को बंटाधार करने का आरोप लगाते हुए कहा कि बजट 17 घटाकर 13 फीसद करने से सरकारी स्कूलों के हालात बदतर हो गए हैं।

सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत के दौरान योगी आदित्यनाथ सरकार को निशाने पर लेते हुए सिसोदिया ने कहा कि प्रदेश सरकार पांच साल का कार्यकाल पूरा करने वाली है लेकिन 40 फीसद स्कूलों में बिजली नहीं है। वर्ष 2017 तक सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों की संख्या 60 फीसद थी जबकि निजी स्कूलों में 40 फीसद, लेकिन योगी सरकार में आंकड़ा उलट गया। हमारी सरकार बनी तो सरकारी स्कूलों को निजी स्कूलों से बेहतर बनाया जाएगा। शिक्षकों को प्रशिक्षण के लिए विदेश भेजा जाएगा। उन्होंने कानपुर के व्यापारी मनीष गुप्ता के स्वजनों को पांच करोड़ रुपये का मुआवजा देने तथा घटना की सीबीआइ जांच की मांग भी की।

यह भी पढ़ेंः  उत्कृष्ट शिक्षक के पुरस्कार से पूर्व डिप्टी सीएम करेंगे सम्मान

इससे पहले मनीष सिसोदिया ने राजर्षि टंडन मंडपम में पार्टी द्वारा आयोजित ‘यूपी की शिक्षा की बात, मनीष सिसोदिया के साथ’ कार्यक्रम में विद्यार्थियों एवं प्रबुद्ध वर्ग से संवाद किया। पार्टी के प्रदेश प्रभारी राज्यसभा सदस्य संजय सिंह, प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

मनीष सिसोदिया ’ जागरण

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री बोले, राज्य में सरकारी स्कूलों के हालात बदतर कहा, प्राइवेट स्कूलों से बेहतर बनाएंगे शिक्षकों को, विदेश में ट्रेनिंग