मिड-डे-मील में मरा हुआ चूहा, नौ छात्रों की बिगड़ी हालत

  

मुजफ्फरनगर : जनता इंटर कॉलेज, मुस्तफाबाद पचेंडा में मिड-डे मील में मरा हुआ चूहा निकला। इस भोजन को खाने से नौ बच्चों और एक शिक्षक की हालत बिगड़ गई। सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। डीएम ने भोजन आपूर्ति करने वाले एनजीओ प्रभारी पर मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं।

मंगलवार को स्वयंसेवी संस्था जनकल्याण सेवा समिति ने कॉलेज में मिड-डे-मील के रूप में दाल-चावल की सप्लाई की थी। पूर्वाह्न करीब 11 बजे 250 बच्चों को कतार में बैठाया गया। शिक्षक डॉ. मन्नू प्रसाद ने भोजन की गुणवत्ता जांची। इसके बाद एनजीओ कर्मियों ने पहली कतार के नौ बच्चों को भोजन परोसा। दूसरी कतार में भोजन परोसते समय एक बच्चे के बर्तन में मरा हुआ चूहा दिखा।

आनन-फानन में बच्चों को परोसा गया भोजन वापस लेकर सारा मिड-डे-मील सील कर दिया। तब तक नौ बच्चे भोजन कर चुके थे। एक शिक्षक ने भी भोजन चखा था। दो-तीन बच्चों को उल्टियां होने लगीं। कॉलेज प्रबंधन ने नौ बच्चों और शिक्षक को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। बच्चे कक्षा छह से आठ के हैं। मिड-डे मील के जिला समन्वयक विकास त्यागी ने मौके पर पहुंच जांच की। इस बीच एनजीओ कर्मी मिड-डे मिल पैक करके चलते बने।

काफी अभिभावक कॉलेज पहुंचे और बच्चों को घर ले आए। डीएम सेल्वा कुमारी जे ने बताया कि बीएसए रामसागर पति त्रिपाठी से रिपोर्ट मांगी है। आपूर्ति करने वाली एनजीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जा रहा है।

You may Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *