यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा के प्रवेश पत्र में गड़बड़ी सामने आई

यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों का जेंडर कोड बदल गया है। वहीं बड़ी संख्या में परीक्षार्थियों के विषय भी गलत दर्ज हो गए हैं। 18 फरवरी से होने वाली परीक्षा का प्रवेशपत्र जब परीक्षार्थियों व उनके अभिभावकों के हाथों में पहुंचा तो उनके होश उड़ गए। वे इसे दुरुस्त कराने के लिए प्रयासरत हैं। बोर्ड सचिव ने सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों को आदेश दिया है कि ऐसी गड़बड़ियों को दुरुस्त करके सही विषय व कोड अंकित कराएं।

माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) ने इस बार छात्र-छात्रओं के विवरण की गलतियां ठीक करने की मुहिम शुरू की है। इसके लिए कई बार वेबसाइट खोली गई, जिला विद्यालय निरीक्षकों से टीमें गठित कराकर कालेजों का औचक निरीक्षण कराया गया। बोर्ड परीक्षा शुरू होने से एक पखवारे पहले प्रवेशपत्र की गड़बड़ियां सामने आ गई हैं। कई जिलों में प्रवेश पत्र पर परीक्षार्थियों का सेक्स कोड गलत दर्ज हो गया है। इससे उन्हें गलत परीक्षा केंद्र आवंटित हो गया है। ज्ञात हो कि छात्र व छात्रओं का परीक्षा केंद्र अलग-अलग तय हुआ है। इसके अलावा प्रवेशपत्र विषय गलत लिखे होने से परीक्षा की तारीखें भी बदल गई हैं। जिला विद्यालय निरीक्षकों व प्रधानाचार्यो तक ऐसे प्रकरण पहुंचने पर उन्होंने बोर्ड को सूचित किया है। बोर्ड सचिव ने सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों को निर्देश दिया है कि जिन परीक्षार्थियों के प्रवेशपत्र पर सेक्स कोड गलत दर्ज है, उसका संशोधन प्रवेशपत्र पर अनिवार्य रूप से करा दें, ताकि वे सही परीक्षा केंद्र पर इम्तिहान दे सकें। इस संबंध में यूपी बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्तव ने कहा कि हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा में सम्मिलित कराने के लिए विद्यालय की ओर से ऑनलाइन विवरण दिया जाता है, उसी के आधार पर प्रवेशपत्र मुद्रित कराए गए हैं। ऐसी गलतियां प्रधानाचार्यो की लापरवाही है।

ये भी पढ़ें : यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं के परीक्षार्थियों के इंटरनल मार्क्‍स नहीं किए अपलोड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.