सीटीईटी परीक्षा में स्वस्थ होने का घोषणापत्र लाएंगे अभ्यर्थी

कोरोना के कारण निर्धारित समय से छह महीने देरी से 31 जनवरी को होने जा रही केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) में अभ्यर्थियों को खुद के स्वस्थ होने का घोषणापत्र लेकर जाना होगा। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने सभी अभ्यर्थियों के लिए कोविड घोषणापत्र लाना अनिवार्य किया है। अभ्यर्थियों को इस आशय का घोषणापत्र अपने साथ रखना होगा की उन्हें जुकाम, बुखार, सांस लेने में समस्या आदि नहीं है। परीक्षा केंद्र में प्रवेश के समय पूछे जाने पर घोषणापत्र दिखाना होगा। राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) की ओर से सीटीईटी की वैधता आजीवन किए जाने के बाद पहली बार परीक्षा होने जा रही है।

प्रयागराज में 100 से अधिक केंद्रों पर तकरीबन 69000 अभ्यर्थी पंजीकृत हैं। परीक्षा दो पालियों में 9.30 से 12 और 2 से 4.30 बजे तक होगी। सीबीएसई की क्षेत्रीय अधिकारी श्वेता अरोड़ा ने बताया कि कोरोना की गाइडलाइन का पालन करते हुए परीक्षा कराई जाएगी। एक कमरे में 12 अभ्यर्थियों के ही बैठने की व्यवस्था की गई है। केंद्रों पर थर्मल स्क्रीनिंग के अलावा अनिवार्य रूप से वीडियोग्राफी कराई जाएगी। इस परीक्षा के लिए 24 जनवरी से 9 मार्च 2020 तक पंजीकरण कराया गया था। परीक्षा जुलाई में होनी थी लेकिन कोरोना के कारण छह महीने टालनी पड़ गई।

खास खास
– अभ्यर्थियों को केंद्र पर परीक्षा से दो घंटे पहले रिपोर्ट करना है
– परीक्षा शुरू होने के बाद किसी भी स्थिति में प्रवेश नही मिलेगा
– ओएमआर उत्तरपत्रक में व्हाइटनर का उपयोग, ओवरराइटिंग और कटिंग मना है
– मास्क लगाना जरूरी है और सेनिटाइजर व पानी की पारदर्शी बोतल ले जाने की अनुमति मिलेगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.