प्रवक्ता शारीरिक शिक्षा के आठ सवालों पर आपत्ति, अभ्यर्थियों ने दर्ज कराई आपत्ति

उत्तर प्रदेश माध्यमिक सेवा चयन बोर्ड की ओर से अशासकीय विद्यालयों में प्रवक्ता शारीरिक शिक्षा के पदों पर भर्ती के लिए आयोजित परीक्षा की अनंतिम उत्तर कुंजी को लेकर विवाद हो गया है। अभ्यर्थियों का दावा है कि अनंतिम उत्तर कुंजी में आठ सवालों के जवाब गलत दिए गए हैं। परीक्षा 17 अगस्त को आयोजित की गई थी और चयन बोर्ड ने 20 अगस्त को उत्तर कुंजी जारी की थी। परीक्षा में शामिल हुए शैलेश चंद्र मिश्र एवं अन्य अभ्यर्थियों ने सवालों के गलत जवाब पर अपनी आपत्तियां दर्ज कराईं हैं। अभ्यर्थियों का कहना है कि एक पेपर में आठ सवाल गलत होने से मेरिट प्रभावित होगी और योग्य अभ्यर्थियों को नुकसान होगा। अभ्यर्थियों ने मांग की है कि उनकी आपत्तियों का गंभीरता से निस्तारण कर चयन बोर्ड अंतिम उत्तर कुंजी जारी करे।

बुकलेट सिरीज-बी

यह भी पढ़ेंः  शिक्षामित्रों व अनुदेशको के मानदेय माह सितम्बर के भुगतान के सम्बन्ध में

प्रश्र संख्या आठ-निम्नलिखित में कौन सा मालिश का भाग नहीं है?
चयन बोर्ड का उत्तर – कैपिंग
अभ्यर्थी का उत्तर – टैपिंग

प्रश्र संख्या 14 – ‘लगातार प्रशिक्षण विधि’ किसके द्वारा प्रतिपादित की गई थी?
चयन बोर्ड का उत्तर – वोल्डमर ग्रश्चलर
अभ्यर्थी का उत्तर – अरनेस्ट वी. आकन

प्रश्र संख्या 30 – डिकाथलान स्पर्धा को कुल कितने दिन में खिलाड़ी पूरा करता है?
चयन बोर्ड का उत्तर – तीन दिन
अभ्यर्थी का उत्तर – दो दिन

प्रश्र संख्या 45 – ह्दय की सबसे बाहरी परत को कहते हैं?
चयन बोर्ड का उत्तर – उपर्युक्त में से कोई नहीं
अभ्यर्थी का उत्तर – पेरीकार्डियम

यह भी पढ़ेंः  उत्कृष्ट शिक्षक के पुरस्कार से पूर्व डिप्टी सीएम करेंगे सम्मान

प्रश्र संख्या 72 – एशियाई खेलों का प्रतीक चिह्न है?
चयन बोर्ड का उत्तर – ग्यारह छल्ले
अभ्यर्थी का उत्तर – पूरा उगता सूर्य

प्रश्र संख्या 80 – लो बैक पेन के निदान व उपचार के लिए कौन सा परीक्षण विकसित हुआ परीक्षण?
चयन बोर्ड का उत्तर – क्रॉस-वेबर शक्ति परीक्षण
अभ्यर्थी का उत्तर – ब्रूस व उनके साथी

प्रश्र संख्या 92 – एक फुटबाल मैच में एक टीम को कितने टाइम आउट अनुमन्य हैं?
चयन बोर्ड का उत्तर – तीन
अभ्यर्थी का उत्तर – इनमें से कोई नहीं

प्रश्र संख्या 103 – आइसोमेट्रिक कॉन्टैक्शन में पेशियां
चयन बोर्ड का उत्तर – सिकुड़ती हैं
अभ्यर्थी का उत्तर – न सकुड़ती हैं, न फैलती हैं

यह भी पढ़ेंः  बेसिक में सरप्लस तो माध्यमिक शिक्षा में 70 फीसदी पद खाली: रिपोर्ट

You may Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.