बिहार STET परीक्षा 28 जनवरी को

बिहार बोर्ड ने माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (STET) 2019 का आयोजन 28 जनवरी को होगा. बिहार बोर्ड ने इससे सम्बंधित सभी केंद्राधीक्षकों को दिशा-निर्देश जारी किया है। बोर्ड के दिशा-निर्देशानुसार परीक्षा केंद्र के हर परीक्षा रूम में जैमर और सीसी टीवी कैमरा लगा रहेगा। एक बेंच पर दो परीक्षार्थियों को ही बैठाये जाने का भी निर्देश है. परीक्षा के समय एक वीक्षक को 20 परीक्षार्थियों पर नियुक्त करने भी निर्देश है. वहीं एक रिलिवर की प्रतिनियुक्ति चार वीक्षकों पर की जाएगी। एक रूम में कम से कम दो वीक्षकों की उपस्थिति अनिवार्य कर दी गई है।

परीक्षा शुरू होने के आधा घंटा पहले तक ही प्रवेश 
बोर्ड के अनुसार परीक्षा शुरू होने से आधा घंटा पहले तक ही परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र में प्रवेश मिलेगा। उसके बाद नहीं मिलेगा. 28 जनवरी को परीक्षा का आयोजन दो पालियों में किया जाएगा. एसटीईटी की प्रथम पाली की परीक्षा सुबह 10 बजे से 12.30 बजे तक तथा दूसरी पाली की परीक्षा दोपहर 2 बजे से 4.30 बजे तक आयोजित होगी। प्रथम पाली की परीक्षा के लिया सुबह 9.30 बजे तक वंही दूसरी पाली की परीक्षा के लिए लिए 1.30 बजे तक ही प्रवेश मिलेगा. पहली पाली की परीक्षा में पेपर 1 तथा दूसरी पाली में पेपर 2 की परीक्षा होगी। परीक्षा में 150-150 अंकों के बहुवैकल्पिक प्रश्न पूछे जाएंगे। परीक्षा ओएमआर शीट पर ली जाएगी।

ये भी पढ़ें : Polytechnic Admission Process पॉलिटेक्निक में प्रवेश की प्रक्रिया

चप्पल पहनकर ही आना है परीक्षा देने 
परीक्षा देने के लिए परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र पर चप्पल पहनकर आना पड़ेगा। क्योकि जूता-मोजा, घड़ी पहनकर आने के बाद परीक्षा कक्ष में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी। केंद्राधीक्षकों को बोर्ड ने इस संबंध में सख्त निर्देश दिया है। बोर्ड ने कहा है कि ठण्ड के मौसम में कई लेयर में कपड़े पहनकर आ सकते हैं, इसकी बारीकी से जांच की जाएगी। परीक्षार्थियों की तलाशी परीक्षा केंद्र के गेट अलावा परीक्षा रूम के बहार भी होगी. वीक्षक को यह घोषणा पत्र भी देना होगा कि उसने तलशी सही से ली है और उसको परीक्षार्थी के पास घड़ी, मोबाइल, इलेक्ट्रोनिक गैजेट इत्यादि नहीं मिला। परीक्षार्थी इसका विशेष ध्यान रखे. किसी भी परिस्थिति में परीक्षार्थी को घड़ी, बैग, पर्स इत्यादि को परीक्षा कक्ष ले जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। अनाउंसमेंट करने के लिए लाउडस्पीकर की व्यवस्था का निर्देश भी दिया गया है।

नाम, अनुक्रमांक, जन्मतिथि पहले से प्रिंटेड रहेगी
एसटीईटी परीक्षा में ओएमआर शीट पर परीक्षार्थियों का नाम, पिता का नाम, अनुक्रमांक, परीक्षा की तिथि, जन्मतिथि, कोटि, लिंग, विषय कोड, विषय एवं फोटो इत्यादि का विवरण पहले से ही प्रिंटेड रहेगा। इसलिए केंद्राधीक्षकों निर्देश दिया गया है कि परीक्षार्थियों की सही से पहचान करने के बाद ही उन्हें ओएमआर शीट उपलब्ध कराई जाये। किसी भी परिस्थिति में अनुक्रमांक, मुद्रित ओएमआर शीट किसी अन्य परीक्षार्थी को न दिया जाए। अगर ओएमआर शीट पर नाम-क्रमांक गलत लिखा है उस स्थिति में परीक्षार्थी को नॉन स्टैंडर्ड ओएमआर शीट दी जाएगी. इसके बाद सभी सूचनाएं उन्हें भरनी होंगी। बोर्ड को त्रुटिपूर्ण ओएमआर शीट को अलग से भेजना होगा

दंडाधिकारी की उपस्थिति में 10 मिनट पहले खोला जाएगा प्रश्न पत्र

परीक्षा शुरू होने से 10 मिनट पहले प्रश्न पत्र दंडाधिकारी की उपस्थिति में खोला जाएगा। प्रश्न पत्र खोलते समय केंद्राधीक्षक एवं दंडाधिकारी का हस्ताक्षर व समय दर्ज होगा। प्रश्न पत्र हर परीक्षा कक्ष में जवाबदेह वीक्षक के दवरा परीक्षा शुरू होने के 10 मिनट पहले भेजा जाएगा। परीक्षा में मैनुअल उपस्थिति के अतिरिक्त अभ्यर्थियों की बायोमीट्रिक उपस्थिति भी ली जाएगी। परीक्षा के समय फोटोग्राफ भी लिया जाएगा. परीक्षा में दिव्यांग अभ्यर्थी जो लिखने-पढ़ने में सक्षम नहीं हैं, उनके लिए डीईओ के नियम के अनुसार लेखक उपलब्ध कराया जाएगा. ऐसे अभ्यर्थियों को प्रति घंटा 10 मिनट अधिक समय दिया जाएगा। यानी 25 मिनट अतिरिक्त समय दिया जाएगा।

प्रश्नपत्र के होंगे 10 सेट, कंट्रोल रूम बनाया गया
बिहार STET परीक्षा के लिए प्रश्न पत्रों के 10 सेट बनाये गए है। परीक्षा समाप्त होने के बाद अभ्यर्थी ओएमआर शीट को जमा कर देंगे। ओएमआर लेकर परीक्षार्थी परीक्षा केंद्र से बाहर नहीं जाएगा। बिहार बोर्ड ने परीक्षा संचालन के लिए तीन अधिकारियों की टीम बनाई गई है। इसके अलावा परीक्षा कंट्रोल रूम भी बनाया गया हैं। अगर परीक्षा संचालन को परेशानी आती है तो आप यहाँ सम्पर्क कर सकते है.

परीक्षा का शेड्यूल
पेपर 1 पहली पाली
हिंदी, उर्दू, संस्कृत, अंग्रेजी, गणित, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान
पेपर-2 , दूसरी पाली
अंग्रेजी, गणित, भौतिकी, रसायनशास्त्र, प्राणी शास्त्र, वनस्पति शास्त्र, कंप्यूटर साइंस, मैथिली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.