गाजीपुर जिले में शिक्षा माफिया पर बड़ी कार्रवाई

  

STFउत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में प्रशासन ने शिक्षा माफिया के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। जिला प्रशासन ने सदर कोतवाली क्षेत्र के रघुनाथपुर छावनी लाइन निवासी शिक्षा माफिया महेंद्र कुशवाहा की 4.79 करोड़ की संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई की। जिला प्रशासन ने बाकायदा मुनादी के बीच संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई की है। जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह के आदेश पर रविवार को सदर एसडीएम अनिरुद्ध प्रताप सिंह व सीओ ओजस्वी चावला ने नंदगंज थाना क्षेत्र के फतेउल्लाहपुर स्थित शिक्षा माफिया महेंद्र कुशवाहा की 0.3098 हेक्टेयर भूमि व निर्मित इमारत को कुर्क कर दिया।

प्रशासन की यह कार्रवाई गैंगस्टर एक्ट के तहत की गई। इस दौरान शहर कोतवाल दीपेंद्र सिंह सहित भारी संख्या में फोर्स तैनात रही। शिक्षा माफिया कुशवाहा गैंग का अब तक 24 करोड़ छह लाख की संपत्ति कुर्क की जा चुकी है। प्रशासन के इस कार्रवाई से संबंधितों में खलबली मची हुई है। जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह जिले में माफिया के अवैध तरीके से अर्जित की गई संपत्ति के खिलाफ अभियान चलता रहेगा। ऐसे और लोगों को चिह्नित किया जा रहा है। जल्द उनके खिलाफ भी कार्रवाई होगी।

सदर एसडीएम अनिरुद्ध प्रताप सिंह और सदर सीओ ओजस्वी चावला ने बताया कि शिक्षा माफिया महेंद्र कुशवाह पर गैंग बनाकर नकल कराने और पेपर आउट कराने का आरोप है। इसी के तहत यह कुर्की की कार्रवाई की गई है। अवैध तरीके से धन अर्जित कर 0.3098 हेक्टेयर जमीन खरीदी थी और उस पर विद्यालय बनवा रहा था। कुर्क की गई संपत्ति की कीमत लगभग चार करोड़ 79 लाख 21 हजार रुपये है।

बता दें कि कि बीते 19 नवंबर को प्रशासन ने शहर कोतवाली के रघुनाथपुर छावनी लाइन स्थित शिक्षा माफिया राजेंद्र कुशवाहा छह करोड़ 96 लाख की संपत्ति कुर्क की गई थी। इससे पूर्व गैंग लीडर पारस कुशवाहा के 12 करोड़ 31 लाख और महेंद्र कुशवाहा के चार करोड़ 79 लाख रुपये की संपत्ति कुर्क की गई थी।

You may Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *