शिक्षकों को तबादला नीति का लंबे समय से इंतजार

बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों के अध्यापक लंबे समय से तबादला नीति का इंतजार कर रहे हैं। इधर दो साल से अंतर जनपदीय शिक्षक स्थानांतरण सूची आने के बाद गड़बड़ियों निदान के लिए पूरक सूची जारी करने का वादा जरूर किया गया लेकिन, उस पर अभी तक अमल नहीं हो सका। अंतर जिला तबादला इस साल तो अधर में है। माध्यमिक शिक्षा विभाग स्थानांतरण नीति जारी करने में बाजी मार ले गया है।

बेसिक शिक्षा विभाग शिक्षकों के तबादलों को लेकर हर वर्ष असमंजस बना रहता है। विभाग कहता है कि यह नियम नहीं है शासन के निर्देश पर अंतर जिला शिक्षक स्थानांतरण किए जाते हैं। बीते दो सालों में 13 जून को अंतर जिला तबादलों की सूची जारी हुई और दोनों ही बार उस पर तमाम गड़बड़ियों के आरोप लगे। शिक्षकों से पिछली बार प्रत्यावेदन लिए गए और यह संदेश दिया गया  कि पूरक सूची जारी की जाएगी लेकिन, अब तक उस पर कोई फैसला नहीं हो सका। वहीं, हाईकोर्ट ने जिले के अंदर हुए तबादलों को कटघरे में खड़ा कर दिया। शायद उनका इस बार हो जाए। माध्यमिक शिक्षा विभाग की सूची आने के बाद अब प्राथमिक की चर्चा जोरों पर है। अधिकारियों की मने तो गर्मी की छुट्टी में तबादले होने हैं।