अब एक क्लिक में मिलेगी सभी स्कूलों की जानकारी

  

अब आपको जिले के किसी विद्यालय की जानकारी लेने के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा, बल्कि घर बैठे एक क्लिक पर उसका ब्योरा आपके सामने होगा। जी हां, यह संभव होगा सभी विद्यालयों का विवरण ऑनलाइन होने से। यह कार्य जिला बेसिक शिक्षा कार्यालय के जरिए शुरू कराया जा रहा है।

दरअसल, मानव संसाधन विकास मंत्रलय और स्कूल शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने 2018-19 से समग्र शिक्षा लागू किया है। इसमें नर्सरी से इंटरमीडिएट तक के सभी विद्यालयों के ब्योरे फीड कराने के लिए यू डायस प्लस सॉफ्टवेयर डेवलप हुआ है। इस सॉफ्टवेयर पर सभी बोर्ड के विद्यालयों का डाटा कैप्चर फार्मेट (सीसीएस) पर फीड किया जाना है। इससे जिले में विद्यार्थियों के नामांकन की सही संख्या, माध्यमिक और बेसिक विद्यालयों का शैक्षिक स्तर मालूम चलेगा। छात्र नामांकन, शिक्षकों की संख्या, शौचालय, पेयजल, क्लास, रैंप, किचन, बाउंड्रीवाल, विद्युतीकरण, खेल के मैदान, पुस्तकालय के विवरणों की फीडिंग होनी है।

31 मई तक होनी है फीडिंग : आंकड़े फीडिंग का काम 31 मई तक होना है, लेकिन छुट्टी होने के कारण इस कार्य में दिक्कतें पेश आ सकती है।

दो शिफ्टों में कार्यशाला कल : यू डायस प्लस प्रशिक्षण के लिए शुक्रवार को दो शिफ्टों में कार्यशालाएं आयोजित की गई हैं। साउथ मलाका स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय में सुबह 7.30 बजे से नगर क्षेत्र के परिषदीय प्राथमिक विद्यालय, पूर्व माध्यमिक विद्यालय, सहायता प्राप्त एवं मान्यता प्राप्त विद्यालयों के लिए कार्यशाला होगी। सुबह 9.30 बजे से माध्यमिक, राजकीय, मान्यता प्राप्त, अनुदानित, गैर अनुदानित, केंद्रीय विद्यालय, केजीबीवी, जनजाति एवं समाज कल्याण विभाग, आइसीएसई से मान्यता प्राप्त, मदरसा विद्यालयों के लिए कार्यशाला आयोजित की जाएगी।

सभी बोर्ड के नर्सरी से लेकर इंटरमीडिएट तक के विद्यालयों के ब्योरे पहली बार ऑनलाइन किए जाएंगे। जो डॉटा विभागीय वेबसाइट पर अपलोड होगा। उसी आधार पर विद्यालयों की कार्य योजना बनेगी और बजट का निर्धारण भी होगा। ज्योति शुक्ला, खंड शिक्षा अधिकारी (नगर)

You may Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *