यूपी के सरकारी स्कूलों की गुणवत्ता व स्वच्छता की जांच के लिए 75 अधिकारियों को मिली जिम्मेदारी

  

Basicलखनऊ : प्राइमरी स्कूलों में मिड डे मील व कस्तूरबा विद्यालयों में भोजन वितरण की गुणवत्ता व स्वच्छता की असलियत परखने के लिए राज्यस्तरीय निरीक्षण किया जाएगा। इसके लिए 75 अधिकारियों को जिले आवंटित कर दिए गए हैं। ये निरीक्षण 9-10 और 13-14 दिसंबर को किए जाने हैं। महानिदेशक अनामिका सिंह ने आदेश जारी करते हुए कहा है कि ये अधिकारी अलग-अलग विकास खण्डों के नगरीय व ग्रामीण क्षेत्रों के न्यूनतम पांच प्राइमरी व जूनियर स्कूलों में मिड डे मील वितरण की प्रभावी मॉनिटरिंग करेंगे। मॉनिटरिंग के लिए प्रोफार्मा जारी कर दिया गया है।

ये अधिकारी नि:शुल्क सामग्री के लिए दी जा रही डीबीटी प्रणाली की स्थिति भी जाचेंगे। निरीक्षण के बाद संबंधित निदेशालय व प्राधिकरण को अधिकारी अपने स्तर से सूचित करेंगे और इन पर त्वरित कार्रवाई करते हुए सुधार की कार्रवाई की जाएगी। निदेशक सीमैट सुत्ता सिंह को प्रयागराज, अपर परियोजना निदेशक सरिता तिवारी को बलिया, जेडी एससीईआरटी अजय सिंह को उन्नाव, जेडी निदेशालय गणेश कुमार को मऊ, प्राचार्य डायट लखनऊ पवन कुमार सचान को कौशम्बी, वरिष्ठ विशेषज्ञ समग्र शिक्षा राजेन्द्र प्रसाद को लखीमपुर खीरी, डीडी निदेशालय अशोक कुमार को कन्नौज की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

You may Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *