69000 शिक्षक भर्ती अखिलेश कुमार शुक्ला बीएड लीगल टीम लखनऊ

साथियों नमस्कार—–

एक संदेश अपने विपक्षी टीम के पैरवीकारों के लिए—

“”””रिज़वान अंसारी कल के अपनी कोर्ट कार्यवाही वाले औडिओ सन्देश में बता रहे हैं कि बीएड वालों ने बीटीसी के भाइयों का हक़ छीन लिया है और बीटीसी भाई शिक्षामित्रों का साथ दे,,तो भाई रिज़वान अंसारी अपने ज्ञान का दायरा थोड़ा बढ़ा लो और माननीय चंद्रचूड सर् की लार्जर बेन्च का आदेश उठाकर एकबार चिंतन मनन अपने कमांडोज़ से करवा लो कि हक़ तो तुनलोगों ने बीएड और बीटीसी भाइयों का मारा था जब पूर्ववर्ती सरकार ने तुम्हारा अवैध समायोजन वोट बैंक की खातिर किया था और उसपर चंद्रचूड सर् ने पूरी तरह से सितम्बर 2015 में रद्द करके अवैध समायोजन पर गड़ासा चला दिया था।।।भाई अगर तुम अकेले न लड़ पॉ रहे हो तो इन बीटीसी भाइयों को मत बरगलाया करो और जोभी बीटीसी भाई जोकि 90-97 पर पास हैं तुम्हारे कहने से तुम्हारे झाँसे में नहीं आने वाले हैं और तुम कहते हो कि तुमने भी बीटीसी की ट्रेनिंग की है और क्वालिफाइड हो तो जिसतरह से तुम्हारे कमांडोज़ दया के आधार पर कल कोर्ट में गिड़गिड़ा रहे थे तो अब जज साहब को भी पता चल ही गया है कि तुम्हारे झूठ का पुलिंदा अब ज्यादा दिन डबल बेन्च में चलने वाला नही है और सिंगल बेंच की तरह अब यहाँ पर मर्सी के आधार पर आर्डर होने वाला नही है।।।

माननीय जज साहब को अब पता चल ही गया है कि हाइकोर्ट लार्जर बेन्च और माननीय सुप्रीम कोर्ट से जो इतिहास लिखा गया है वो बिल्कुल सही है और कमांडोज़ की फौज मुख्य मुद्दे से हटकर दूसरे पक्ष को अवैध ठहराने पर तुली हुई है तो अब यह झूठ ज्यादा दिन चलने वाला नही है।।।सुनवाई अब अंतिम दौर में चल रही है और तुम्हारे अधिवक्ताओ की लचर ब्रीफिंग सामने आ गयी है जब समय के लिए कोर्ट के सामने गिड़गिड़ाते हैं।।।

सिंगल बेंच के जजमेंट के बाद तुमने दावा ठोंका था कि हमारी अपील को पहली ही डेट में खारिज करवा दोगे और हमारे अधिवक्ताओ को बहस नहीं करने दोगे क्योंकि सिंगल बेंच में चन्द्रा साहब सरकार की तरफ से पैरवीकार थे तो तुमको फिर से याद दिला रहे हैं कि यही चन्द्रा साहब 3 बार अपने अरगुएमेंट्स कोर्ट के सामने रख चुके हैं और इन्ही अधिवक्ताओ द्वारा हमारी टीम की 9 स्पेशल अपील तुमारी 148 पेज की धज्जियाँ उड़ाने के लिए टैग हैं अब जल्दी ही इन्हीं अधिवक्ताओ द्वारा जल्दी ही एक नया इतिहास भी लिखा जाएगा।।।

धन्यवाद
अखिलेश कुमार शुक्ला
बीएड लीगल टीम लखनऊ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.